स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रिश्तेदारों का लाड़ बेटी को जिद्दी तो नहीं बना देगा

Manish Kumar Singh

Publish: Feb 23, 2019 06:34 AM | Updated: Feb 20, 2019 16:30 PM

Parenting

छह माह की बच्ची को परिवारीजन के साथ घुलने मिलने दें क्योंकि बंदिशें परेशानी का सबब बन जाती हैं। बच्ची का ध्यान रखें। उसे बचपन को अच्छे से जीने दें।

सवाल: मेरी छह माह की बेटी है जिसे परिवार का हर सदस्य बहुत प्यार करता है। मुझे लगता है कि अधिक लाड़, प्यार और खिलौने देकर लोग मेरी बेटी को जिद्दी बना देंगे। मैं ऐसा कुछ नहीं चाहती कि बड़े होने पर वो जो कुछ भी मांगे उसे मैं दे दूं। ऐसे में मुझे क्या करना चाहिए?

जवाब: आपकी बच्ची छह माह की है और आप अभी से इतना चिंतित हैं। ये सही है कि खिलौने बच्चों की सेहत के लिए ठीक नहीं होते हैं। घर में जब बच्चा होता है तो उसे लाड़ प्यार करने वाले लोगों की संख्या भी अधिक होती है। लोग आपके कहने से बच्ची को तोहफे देना बंद नहीं करेंगे क्योंकि वे उनकी इच्छा है। इस तरह की स्थिति से निपटने के लिए आपके पास दो तरीके हैं। पहला जैसा चल रहा वैसा चलने दें और बिलकुल भी चिंता न करें। जो लोग तोहफे दे रहे हैं उसे खुशी से स्वीकार करें। अगर आपको ये तोहफे नहीं चाहिए तो किसी और को दे दें इसमें कोई बुरा नहीं मानेगा पर आप तोहफे लेने से मना नहीं करेंंगी। छह माह की बच्ची को परिवारीजन के साथ घुलने मिलने दें क्योंकि बंदिशें परेशानी का सबब बन जाती हैं। बच्ची का ध्यान रखें। उसे बचपन को अच्छे से जीने दें।

आपकी बच्ची इससे जिद्दी हो जाएगी तो ऐसा बिलकुल नहीं है। बच्चे को जिद्दी नहीं होने देना चाहते हैं तो उसे जिद्दी बनाने की कोशिश भी न करें। अगर आपका बच्चा रोता है तो उसे रोने दें इससे उसे अपने भाव व्यक्त करने की सीख मिलेगी। उसे बंदिशों में शुरू से ही रखने की कोशिश करेंगे तो बुरा असर पड़ेगा। अभी आपको ये भी नहीं पता कि बेटी का स्वभाव कैसा है? उसे अभी बड़ा होने दें।

मेघन लीह, पैरेंट कोच, वाशिंगटन पोस्ट से विशेष अनुबंध के तहत