स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शुरू हुए उमंग के मेले, लगी आस्था की डुबकी

Shashikant Mishra

Publish: Jan 14, 2020 22:23 PM | Updated: Jan 14, 2020 22:23 PM

Panna

अजयपाल किला, बृहस्पतिकुंड सहित आधा दर्जन से भी अधिक स्थानों पर शुरू हुए मेले
सारंग, पंडवन और गंगा झिरिया सहित कई दिनों तक चलने वाले मेले बुधवार से होंगे शुरू

पन्ना. मकर संक्रांति के अवसर पर मंगलवार को जिलेभर में उत्साह और उमंग का संचार देखा गया। सुबह लोगों ने नदियों, तालाबों और झरनों सहित अन्य जलस्रोतों में आस्था की डुबकी लगाई और सूर्यदेव का अध्र्य दिया। जिले के धार्मिक पर्यटन स्थल बृहस्पिति कुंड, अजयपाल किला सहित करीब आधा स्थानों पर मेले का आयोजन किया गया। इनमें हजारें की संख्या में लोग भगवान के दर्शन करने और मेला में खरीदारी करने के लिए पहुंचे। मेले में लगाए गए झूले लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र रहे। बड़ी संख्या में आसपास के लोगों ने मेले में पहुंचकर झूलों का आनंद लिया। जिले में कुछ स्थानों पर दूसरे दिन बुधवार भी मकर संक्रांति मनाई जा रही है। इससे सारंग, पंडवन और गंगा झिरिया सहित अन्य स्थानों पर मंगलवार से मेलों का आयोजन ाुरू होगा।


मकर संक्रंति के अवसर पर मंगलवार को जिले के धार्मिक पर्यटन स्थल बृहस्पिति कुंड में दुकानें लगाने के लिए दूर-दूर से लोग यहां आए हुए थे। आयोजन स्थल पर एक सैकड़ा से भी अधिक दुकानें लगाई गई थीं। जिनमें झूले बच्चों और बूढ़ों सभी के लिए आकर्षण का केंद्र रहे। झूला झूलने के लिए तो बच्चों में मानों होड़ लगी हुई थी। दुकानों में हर आयु वर्ग के लोगों द्वारा अपनी-अपनी जरूरत के हिसाब से सामग्री खरीदी ला रही थी। चाट और फुलकी के ठेलों में महिलाएं और बच्चे अधिक संख्या में दिख रहे थे।


अजयपाल के किले में भरा मकर संक्रांति का मेला
अजयगढ़. अजयपाल किले में अयोजित मेलजे में हजारों की तादात में उनके दर्शन करने दूर दूर से लोग पहुंचे। अजयपाल की मूर्ति को पूुरातत्व विभाग द्वार रीवा संग्रहालय से लाकर पहाड़ी के ऊपर स्थित मंदिर में स्थापित किया गया। जिसके दर्शन के लिए हजारों लोग पहुंचे। नगर पंचायत द्वारा मेले की सारी व्यवस्था की गई। मेले में पहाड़ी के ऊपर भी मेडिकल टीम व सुरक्षा व्यवस्था की गई है। मेले में शांति बनाने के लिए नगर निरीक्षक अरविंद कुजुर द्वारा चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

[MORE_ADVERTISE1]