स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रातों-रात चमकी मजदूर की किस्मत, खेत में मिला लाखों का हीरा

Muneshwar Kumar

Publish: Sep 01, 2019 15:28 PM | Updated: Sep 01, 2019 15:28 PM

Panna

खेत में खुदाई के दौरान मजदूर की बदली किस्मत, अब बन गया है लाखपति

पन्ना/ कहते हैं न कि सब किस्मत का खेल है। इस बदलने में सेकंड भर का भी वक्त नहीं लगता है। ऐसे रातों-रात मध्यप्रदेश के पन्ना जिले के एक मजदूर समेत उसके चार और साथियों की किस्मत बदल गई है। वे अब लाखपति बन गए हैं। खेत में खुदाई के दौरान उन्हें बेशकीमती हीरा मिला है। जिसकी कीमत लाखों में है। फिलहाल उसका वैल्यू तय नहीं हुआ है। हीरा मिलते ही इनके चेहरे पर खुशी का ठिकाना नहीं था।

 

दरअसल, पन्ना की धरती का इतिहास बताता है कि यहां कब किस गरीब की किस्मत चमक जाए यह कोई नहीं जानता। यहां के लोगों की किस्मत बेशकीमती हीरे बदलती हैं। एख बार फिर एक गरीब मजदूर लाख बन गया है। उस मजदूर का नाम किशोर कुशवाहा है। किशोर अभी तक दूसरे के यहां मजदूरी करता था। लेकिन हीरे मिलने के बाद से उसकी किस्मत बदल गई है। किशोर को सरकोहा की उथली खदान से 4.4 कैरेट का उज्जवल किस्म का हीरा मिला है।

 

किस्मत अजमाने के लिए लिया खदान
वैसे तो किशोर कुशवाहा मजदूरी कर अपने परिवार का पालन पोषण करता था । लेकिन उसने अपनी किस्मत आजमाने के लिए सरकोहा किट्टू रैकवार के खेत में खदान का पट्टा हीरा कार्यालय से बनवाया और फिर खदान में अपने कुछ पार्टनरों के साथ दिनरात मेहनत की। जिसके बाद उसे शनिवार की सुबह उसे खदान में चाल बीनते समय एक 4.04 कैरेट हीरा मिल गया।

 

हीरा कार्यालय में करवा दिया जमा
किशोर और उसके साथी अब खुशी से फूले नहीं समां रहा है। किशोर कुशवाहा ने अपने 5 सहपाठियों के साथ पन्ना में हीरा कार्यालय में सरकारी नियमानुसार में हीरा जमा करा दिया है । वही जब इस नीलामी होगी तो जितने में भी बिकेगा, उसमें इनकम टैक्स और रॉयल्टी काटकर संपूर्ण पैसा मजदूर किशोर कुशवाहा को दे दिया जाएगा । हालांकि उज्जवल जैम क्वालिटी के हीरों की कीमत सबसे ज्यादा होती है । और व्यापारी जैम क्वालिटी के हीरो को हाथोंहाथ बोली लगाकर खरीद लेते हैं ।

oit.jpg

 

पन्ना के हीरा अधिकारी आरके पाण्डेय ने कहा कि किशोर कुशवाहा को 1-03-2019 से 31-12-2019 तक हीरा खदान में पट्टा दिया गया था। इसमें उन्हें एक डायमंड मिला है। इसे पंचनामा और कार्यवाही के उपरांत यहां जमा करवाया गया है। यह उज्जवल किस्म का हीरा है। इसका वैल्यूएशन करवाया जाएगा, अभी हमारे वैल्यूर प्रशिक्षण के लिए बाहर गए हुए हैं। दो-दिन बाद फिर से पट्टाधारियों की मौजूदगी में इसका वैल्यूएशन किया जाएगा।