स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिले में सरकार रबी सीजन में खाद-बीज के लिए किसानों को बांटेगी 49 करोड़ का ऋण, जानें कैसे मिलेगा लाभ

Anil Singh Kushwaha

Publish: Nov 18, 2019 18:26 PM | Updated: Nov 18, 2019 18:26 PM

Panna

जिला सहकारी बैंक ने अक्टूबर से लेकर अब तक स्वीकृत किए तीन करोड़ रुपए कर्ज

पन्ना/रीवा. ऋण माफी योजना के बाद सरकार ने रबी सीजन में किसानों को खाद-बीज के लिए ४९ करोड़ रुपए ऋण बांटने का लक्ष्य निधारित किया है। चालू वित्तीय वर्ष में किसानों को खाद, बीज और नकद कर्ज के लिए लिमिट तय की है। अक्टूबर से लेकर अब तक तीन करोड़ रुपए से ज्यादा का ऋण किसानों को स्वीकृत कर दिया गया है।

समितियों में 60 हजार किसानों का है पंजीयन, इनको पहले मिलेगा ऋण
रीवा में जिला सहकारी बैंक की 15 शाखाएं हैं। जिसके अंतर्गत 148 सहकारी समितियां काम कर रहीं हैं। जिले की समितियों में करीब 60 हजार किसानों का पंजीयन है। वित्तीय वर्ष 2019-20 में किसानों को खाद-बीज कर्ज के लिए लक्ष्य निर्धारित कर दिया है। अक्टूबर से लेकर ३१ मार्च तक किसानों को ऋण वितरण का टारगेट दे दिया गया है। जिले में सहकारी समिति में पंजीकृत किसानों को अधिकतम तीन लाख रुपए की लिमिट निर्धारित है। जिला सहकारी बैंक ने खाद-बीज के अलावा किसानों को उपकरण आदि खरीदी व अन्य कार्य के लिए कुल पांच करोड़ रुपए नकद ऋण बांटने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

समिति प्रबंधक किसानों को कर रहे गुमराह
जिले में सहकारी बैंक और उससे जुड़ीं समितियों को ऋण बांटने के लिए लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके बावजूद ज्यादातर समिति प्रबंधक किसानों को ऋण देने में आनाकानी कर रहे हैं। कई समिति प्रबंधकों ने किसानों को ऋण बांटने पर प्रतिबंध लगने की जानकारी देकर कर्ज नहीं दे रहे हैं। सैकड़ों किसानों ने सीएम हेल्पलाइन से लेकर विभागीय अधिकारियों व कलेक्टर से शिकायत की है। इसके बावजूद समिति प्रबंधक किसानों को नकद ऋण स्वीकृत नहीं कर रहे हैं। त्योंथर के बरीकला गांव निवासी मणिप्रसाद चतुर्वेदी ने सीएम हेल्पलाइन और कलेक्टर को आवेदन देकर कहा है कि ढखरा समिति प्रबंधक और चाकघाट सहकारी बैंक कर्मचारियों के द्वारा बताया जा रहा है कि रबी सीजन में ऋण वितरण पर हेड आफिस से रोक लगी है। इसी तरह सैकड़ों किसान सहकारी समितियों पर खाद-बीज और नकद ऋण को लेकर चक्कर लगा रहे हैं।

किसानों के लिए पर्याप्त खाद उपलब्ध
जिला सहकारी बैंक के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरएस भदौरिया ने बताया कि रबी सीजन में किसानों को ऋण देने के लिए ४९ करोड़ का लक्ष्य रखा गया है। किसानों के ऋण पर रोक नहीं लगी है। अगर ऐसा है तो जांच कराएंगे। समितियों पर किसानों के लिए पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध है। अक्टूबर से लेकर अब तक तीन करोड़ रुपए कर्ज बांटा जा चुका है।

[MORE_ADVERTISE1]