स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पंचायत समिति के कार्मिक के साथ अभद्र व्यवहार, भडक़े कनिष्ठ सहायक

Satyadev Upadhaya

Publish: Oct 22, 2019 01:37 AM | Updated: Oct 22, 2019 01:37 AM

Pali

रायपुर मारवाड़. पंचायत समिति में हुई बैठक के दौरान कुछ ग्राम विकास अधिकारियों द्वारा पंचायत समिति के कनिष्ठ सहायक के साथ अभद्र व्यवहार करने से क्षेत्र के सभी कनिष्ठ सहायक भडक़ गए।

रायपुर मारवाड़. पंचायत समिति में हुई बैठक के दौरान कुछ ग्राम विकास अधिकारियों द्वारा पंचायत समिति के कनिष्ठ सहायक के साथ अभद्र व्यवहार करने से क्षेत्र के सभी कनिष्ठ सहायक भडक़ गए। सोमवार को पंचायत समिति पहुंचे कनिष्ठ सहायकों ने विकास अधिकारी तनुराम राठौड़ के समक्ष नाराजगी जताई।
विकास अधिकारी को उचित कार्रवाई की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा। दोपहर में पंचायत समिति पहुंचे सभी कनिष्ठ सहायकों ने विकास अधिकारी राठौड़ से मुलाकात की। जिसमें बताया कि एक दिन पहले पंचायत समिति सभागार में हुई ग्राम विकास अधिकारी व कनिष्ठ सहायकों की बैठक में कुछ ग्राम विकास अधिकारियों ने पंचायत समिति के कनिष्ठ सहायक के साथ अभद्र व्यवहार किया। जिससे सभी कनिष्ठ सहायकों में आक्रोश है। संबधित ग्राम विकास अधिकारियों के खिलाफ उचित कार्रवाई किए जाने की मांग की। विकास अधिकारी ने जांच कर उचित कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया। इस दौरान भवानीसिंह, नरेन्द्रसिंह राठौड़, सम्पतराज भट्ट, महेन्द्रसिंह, रमेश कुमावत, सखाराम चौधरी, अभिषेक, जितेन्द्र सहित कनिष्ठ सहायक मौजूद थे।

मानदेय की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन
पाली . राजस्थान विद्यार्थी मित्र पंचायत सहायक संघ के तत्वावधान में सोमवार को पंचायत सहायकों ने जिला कलक्टर कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन कर मानदेय देने की मांग की। पंचायत सहायक ढोल बजाते हुए जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के कार्यालय तक नारेबाजी करते हुए गए। बाद में जिला कलक्टर को एक ज्ञापन भी सौंपा। धरना प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए संघ के जिलाध्यक्ष पुष्पेन्द्रसिंह ने कहा कि पिछले पांच महीनों से पंचायत सहायकों को मानदेय नहीं मिल रहा है। शीघ्र ही मानदेय नहीं दिया गया तो अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इस मौके निरंजन व्यास, लक्ष्मणसिंह, महिपालसिंसह राणावत, योगेश जोशी, कंचन खारवाल, अरुणा वैष्णव, सुषमा राव, हड़मान विश्नोई, प्रवीण दवे, नरपतसिंह राजपुरोहित, नेमाराम मेघवाल, धर्मेन्द्र राव, गोविन्दसिंह सारण, देवेन्द टांक, रतन वैष्णव व आदेश मेघवाल सहित दर्जनों जने मौजूद थे।