स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

VIDEO : यहां की एक नदी में बह रहे पानी से कैंसर का भी खतरा, जानकर आप भी चौंक जाएंगे, पढ़ें पूरी खबर

Suresh Hemnani

Publish: Sep 21, 2019 12:49 PM | Updated: Sep 21, 2019 12:49 PM

Pali

- सर्वे के बाद एक संस्था का दावा

Cancer risk from water flowing into Bandi river :

पाली/जयपुर। Cancer risk from water flowing into Bandi river : राजस्थान के पाली शहर के बीच से गुजरती बांडी नदी में नोनीलफेनोल डिटर्जेंट की मात्रा अधिक पाई गई है। नदी के पानी में इसकी मात्रा 41.27 पीपीएम मिली है। इससे पर्यावरण व मानव स्वास्थ्य को खतरा है। वर्ष 2018 के दिसम्बर माह में संस्था ने बांडी में दो स्थानों से पानी के सैंपल लिए थे।

सर्वे के बाद टॉक्सिक्स लिंक संस्था ने यह दावा किया है। संस्था के निदेशक सतीश सिन्हा ने पत्रकारों से कहा कि डिटर्जेंट टू वाटर बॉडीज के अनुसार भारत में नदियोंं के पानी में डिटर्जेंट के साथ नोनीलफेनोल खतरनाक स्तर तक मिल रहा है। सर्वे में यह देश की प्रमुख 6 नदियों में भी उच्च स्तर पर पाया गया। इनमें राजस्थान की बांडी नदी भी शामिल है। पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य को बचाने के लिए सरकार को कड़े नियम बनाने होंगे। इस रसायन का प्रजनन और हार्मोनल दृष्टि से प्रतिकूल प्रभाव पाया जाता है। यह कैंसर का भी कारण बन सकता है।

एनवायरमेंट पर काम करती है संस्था
दिल्ली की यह संस्था एनवायरमेंट पर काम करती है। संस्था ने देश के अलग-अलग नदियों से पानी के सैंपल लिए थे, जिसमें राजस्थान की बांडी नदी एक मात्र है। संस्था की तृत्ती त्रिपाठी का कहना है कि सभी नदियों में सबसे घातक रसायन बांडी में मिले हैं। भविष्य के खतरों से आगाह करते त्रिपाठी बतातीं है कि अल्टरनेटिव का उपयोग करना चाहिए और एफ्लुऐंट स्टेंडर्ड होगा तभी नुकसान से बचा जा सकता है।