स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Ayodhya Verdict से पहले पुलिस ने बनाया बड़ा प्लान, इन जगहों पर तैनात की जाएगी फोर्स, देखें वीडियो

Rahul Chauhan

Publish: Nov 08, 2019 19:26 PM | Updated: Nov 08, 2019 19:29 PM

Noida

Highlights:

-नोएडा और ग्रेटर नोएडा में पुलिस ने फ्लैग मार्च निकाला और लोग से शांति कायम करने के लिए अपील की

-हूटर और सायरन बजती पुलिस की गाडियां सड़कों पर दौड़ती रहीं

-पुलिस के आलाधिकारी भी सड़कों और गलियों में पैदल मार्च कर लोग से शांति कि अपील करते हुए नज़र आए

नोएडा। अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले जिला प्रशासन और पुलिस ने कानून व्यवस्था कायम रखने की मशक्कत में जुट गई है। डीएम-एसएसपी से लेकर थाना स्तर के पुलिस अधिकारी व कर्मी लोगों को जागरूक करने में जुटे हैं। जहां इसके लिए धर्मगुरुयों, व्यापारी वर्ग और छात्र संगठनों के साथ बैठक कर पुलिस कई सिरे से जिले में शांति बनाए रखने का प्रयास कर रही है।

यह भी पढ़ें : Ayodhya फैसले को लेकर जारी हुए निर्देश, इस तारीख तक जिला नहीं छोड़ सकेंगे सरकारी अधिकारी व कर्मचारी

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

वहीं दूसरी ओर लोगों में सुरक्षा कि भावना को कायम करने के लिए नोएडा और ग्रेटर नोएडा में पुलिस ने फ्लैग मार्च निकाला और लोग से शांति कायम करने के लिए अपील की। हूटर और सायरन बजती पुलिस बल की गाडियां शुक्रवार को नोएडा और ग्रेटर नोएडा की सड़कों पर दौड़ती रहीं और पुलिस के आलाधिकारी भी सड़कों और गलियों में पैदल मार्च कर लोग से शांति कि अपील करते हुए नज़र आए।

ये सारी कवायद लोगों में सुरक्षा की भावना को कायम करने के लिए की जा रही हैं। विभिन्न स्थानों, संस्थानों और सोशल मीडिया पर लगातार अफसरों की ओर से जागरूकता वाली पोस्ट शेयर की जा रही हैं। धर्मगुरुओं और धार्मिक संगठन के नेताओं आदि के साथ लगातार बैठक की जा रही हैं। पूरे जनपद के जो भी मौजूद लोग हैं उनको इकट्ठा करके यह समझाया गया है उनके साथ संवाद स्थापित किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: STF और Rampur police ने तीन नेपाली नागरिकों को किया गिरफ्तार, मिले सामान को जानकर चौंक जाएंगे आप

एसएसी वैभव कृष्ण ने बताया कि जिले के संवेदनशील इलाकों को भी चिन्हित करना शुरू कर दिया है। इसके अलावा मिश्रित आबादी के केंद्र पर सुरक्षा बढ़ाने की तैयारी चल रही है। फोर्स के मोबिलाइजेशन पर ध्यान दिया जा रहा है। जिससे अधिक से अधिक फोर्स को कम से कम समय में उन स्थानों पर पहुँच सके जहां इनकी जरूरत पड़े। जरूरत पड़ने पर संवेदनशील इलाकों में फोर्स तैनात की जाएगी।

[MORE_ADVERTISE3]