स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शराब की दुकानों को लेकर आया बड़ा आदेश, इन शहरों दो दिन बंद रहेंगे सभी ठेके

lokesh verma

Publish: Oct 19, 2019 16:27 PM | Updated: Oct 19, 2019 16:27 PM

Noida

Highlights
- प्रशासन ने देसी-विदेशी शराब व बीयर शाॅप के लिए जारी किए निर्देश
- विधानसभा उपचुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए बंद रहेंगी शराब की दुकानें
- हरियाणा की सीमा से लगे यूपी बार्डर पर भी बंद रहेंगी शराब की दुकानें

नोएडा. उत्तर प्रदेश में आज यानी शनिवार शाम उपचुनाव प्रचार को शोर थम जाएगा। इसके बाद 21 अक्टूबर को उपचुनाव के लिए मतदान होगा। इसके लिए पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए हैं। शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए उत्तर प्रदेश की सभी 11 विधानसभा क्षेत्रों की सभी शराब की दुकानों को शनिवार शाम छह बजे से 21 अक्टूबर तक बंद करने के दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इस तरह सभी विधानसभा क्षेत्रों के आठ किलोमीटर के दायरे में आने वाली सभी देसी-विदेशी शराब दुकानें बंद रहेंगी।

यह भी पढ़ें- UP के इस शहर में बनेगा देश का दूसरा सबसे बड़ा Heliport, खासियत ऐसी कि आप भी कहेंगे 'वाह’

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों के साथ ही हरियाणा में भी विधानसभा चुनाव 21 अक्टूबर को है। विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्वक संपन्न कराने के लिए पुलिस प्रशासन सभी विधानसभा क्षेत्रों की नाकेबंदी करेगा। मतदान के दिन अव्यवस्था न हो इसके लिए शनिवार शाम छह बजे से 48 घंटे यानी 21 अक्टूबर तक विधानसभा क्षेत्रों की परिधि में आने वाली सभी शराब दुकानों को बंद करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

यूपी बार्डर के इन जिलों में भी बंद रहेंगी शराब दुकानें

बता दें कि यूपी उपचुनाव के साथ ही हरियाणा में विधानसभा चुनाव भी 21 अक्टूबर को होगा। इसके लिए हरियाणा बार्डर से सटे उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में आठ किलोमीटर की परिधि में शराब की दुकानें भी 48 घंटे के लिए बंद रहेंगी। बता दें कि हरियाणा से ग्रेटर नोएडा, नोएडा, मुजफ्फरनगर, बागपत, शामली और सहारनपुर की सीमाएं लगती हैं।

यूपी के इन विधानसभा क्षेत्र में नहीं खुलेंगी दुकानें

- गंगोह विधानसभा सहारनपुर
- रामपुर सदर
- इगलास विधानसभा (अलीगढ़)
- बलहा विधानसभा (बहराइच)
- लखनऊ कैंट विधानसभा
- मानिकपुर विधानसभा (चित्रकूट)
- प्रतापगढ़ सदर
- जैदपुर विधानसभा (बाराबंकी)
- जलालपुर विधानसभा (अंबेडकर नगर)
- घोसी विधानसभा (मऊ)
- गोविंदनगर विधानसभा (कानपुर)

यह भी पढ़ें- मां की गोद से छूटी दो साल की मासूम, अस्पताल में डॉक्टरों ने कही ये बात तो मच गयी चीख पुकार