स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दिल्ली एनसीआर में सीमा पर सुरक्षा बढ़ी, बॉर्डर हुए सील, जानिये क्यों

lokesh verma

Publish: Oct 20, 2019 14:41 PM | Updated: Oct 20, 2019 14:41 PM

Noida

Highlights
- हरियाणा विधानसभा चुनाव को लेकर बाॅर्डर पर सुरक्षा कड़ी
- दिल्ली और यूपी से लगी हरियाणा की सीमा को सील
- बाॅर्डर पर आने-जाने वाले वाहनों की हो रही चेकिंग

नोएडा. उत्तर प्रदेश में आतंकी हमले के इनपुट को लेकर जहां गाजियाबाद हिंडन एयरपोर्ट समेत पूरे वेस्ट यूपी की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वहीं 21 अक्टूबर को हरियाणा विधानसभा चुनावों को लेकर दिल्ली और यूपी से लगी हरियाणा की सीमा को सील कर दिया गया है। बार्डर पर वाहनों की जांच की जा रही है, ताकि हरियाणा में शांतिपूर्वक विधानसभा चुनाव संपन्न कराया जा सके।

यह भी पढ़ें- शराब की दुकानों को लेकर आया बड़ा आदेश, इन शहरों दो दिन बंद रहेंगे सभी ठेके

दरअसल, हरियाणा में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव की वोटिंग होगी और 24 अक्टूबर को मतगणना होगी। इसको लेकर शनिवार शाम छह बजे से हरियाणा से सटी यूपी व दिल्ली की सीमाआें पर आठ किलोमीटर के दायरे में आने वाली सभी देसी-विदेशी शराब दुकानों को 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। बता दें कि आमतौर पर वोटिंग के 24 घंटे पहले शराब दुकानों के साथ बार्डर को सील किया जाता है, लेकिन इस बार 48 घंटे पहले सीमाओं को सील किया गया है।

बाॅर्डर पर की जा रही वाहनों की चेकिंग

हरियाणा चुनाव को देखते हुए नोएडा-दिल्ली पुलिस ने विशेष चेकिंग अभियान शुरू कर दिया। चुनाव में शराब तस्करी रोकने के लिए बार्डर की तरफ जाने वाले सभी वाहनों की जांच की जा रही है। बता दें कि ग्रेटर नोएडा-नोएडा की सीमा हरियाणा बाॅर्डर से लगती है।

आतंकी हमले के इनपुट से अलर्ट

बता दें कि हाल ही में उत्तर प्रदेश में आतंकी हमले के इनपुट मिले हैं, जिसको लेकर गाजियाबाद स्थित हिंडन एयरपोर्ट की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। एयरपोर्ट पर तैनात पुलिस जवानों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं। एयरपोर्ट के सुरक्षा अधिकारी राजेन्द्र सिंह जवानों को विशेष चौकसी बरतने के निर्देश दिए हैं। बता दें कि हिंडन एयरपोर्ट की सुरक्षा पुलिस क्षेत्राधिकारी डॉ. राकेश मिश्रा के नेतृत्व में है।

यह भी पढ़ें- कमलेश तिवारी हत्याकांड पर बिफरे धर्मगुरु, बोले-सीएम योगी के बस में नहीं सरकार चलाना, इस्तीफा दें