स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Ayodhya Case पर आया फैसला, कांग्रेस के इस नेता ने किया पीएम मोदी के बयान का समर्थन, जमकर हो रही तारीफ

sharad asthana

Publish: Nov 09, 2019 12:23 PM | Updated: Nov 09, 2019 12:24 PM

Noida

Highlights

  • Moradabad से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं इमरान
  • पीएम मोदी ने 8 नवंबर को किया था ट्वीट
  • भाजपा सांसद ने भी फैसले से पहले किया ट्वीट

नोएडा। अयोध्‍या विवाद (Ayodhya Faisla) पर शनिवार को सु्प्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अपना फैसला सुना दिया है। इसमें विवादित जमीन में राम मंदिर बनाने का फैसला सुनाया गया है। साथ ही मुस्लिम पक्ष को अलग से 5 एकड़ जमीन देने की बात कही गई है। वहीं, फैसला आने से पहले कांग्रेस (Congress) के इमरान प्रतापगढ़ी (Imran Pratapgarhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के ट्वीट (Tweet) को रिट्वीट (RT) कर तारीफें बटोरी हैं।

यह ट्वीट किया था पीएम ने

अयोध्‍या फैसले से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर को रात करीब साढ़े 10 बजे ट्वीट किया था, अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला आएगा, वो किसी की हार-जीत नहीं होगा। देशवासियों से मेरी अपील है कि हम सब की यह प्राथमिकता रहे कि ये फैसला भारत की शांति, एकता और सद्भावना की महान परंपरा को और बल दें।

[MORE_ADVERTISE1]imran_pratapgarhi_.jpg[MORE_ADVERTISE2]

इमरान प्रतापगढ़ी ने यह भी लिखा

इस ट्वीट को मुरादाबाद से लोकसभा चुनाव लड़ चुके कांग्रेस के नेता इमरान प्रतापगढ़ी ने रिट्वीट कर राजनीति से ऊपर उठकर सौहार्द का संदेश दिया है। इसके साथ ही इमरान प्रतापगढ़ी ने ट्वीट किया है,

फिर से नफ़रतों वाला सिलसिला नहीं लाना,
दिल को साफ़ रखना है कुछ गिला नहीं लाना!
आने वाली नस्लों के वास्ते ये करना है,
फैसला कोई भी हो फासला नहीं लाना !!

[MORE_ADVERTISE3]satyapal_singh_.jpg

सांसद ने यह पोस्‍ट किया

वहीं, बागपत के सांसद डॉ. सत्‍यपाल सिंह ने फैसले से पहले ट्वीट कर लोगों से फैसले का सम्‍मान करने की अपील की। उन्‍होंने लिखा, आज राम मंदिर के बारे में सर्वोच्च न्यायालय का फ़ैसला आने के बाद मैं सभी देशवासियों से अपील करूंगा कि हम भगवान राम के आदर्श पर चलकर फैसले को अंतिम मानकर उसका सम्मान कर अपने जीवन को कृतार्थ करेंगे। समय की यही पुकार व मांग है।