स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सीएम कमलनाथ के भांजे और मोजरबेयर कंपनी के डायरेक्टरों पर इस मामले में सीबीआई ने की बड़ी कार्रवाई

Virendra Kumar Sharma

Publish: Aug 19, 2019 15:38 PM | Updated: Aug 19, 2019 15:38 PM

Noida

खबर की खास बातें:—

1. सीएम कमलनाथ का भांजा है रतुल पुरी
2. बैंक घोटाले के मामले में की गई जांच
3. नोएडा—ग्रेटर नोएडा स्थित मोजरबेयर कपंनी के डायरेक्टर भी हुई कार्रवाई

 

नोएडा. मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी व मोजरबेयर के तत्कालीन कार्यकारी निदेशक समेत अन्य पर सीबीआई ने शिकंजा कसा है। सीबीआई ने 354 करोड़ के बैंक घोटाले के मामले में रतुल पुरी, मोजरबेयर के तत्कालीन कार्यकारी निदेशक समेत अन्य पर मुकदमा दर्ज किया है। बैंक घोटाले के मामले में सीबीआई ने उनकी कंपनी के ऑफिसों व डाईरेक्टरों के घर सहित 6 स्थानों पर छापेमारी की।

यह भी पढ़ें: स्वंतत्रता दिवस पर माहौल बिगाड़ने की रची गई थी यह साजिश, खुफिया विभाग अलर्ट

सीबीआई के अधिकारियों के मुताबिक, मोजरबेयर कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर दीपक पुरी, डायरेक्टर उनकी पत्नी नीता पुरी, डायरेक्टर संजय जैन, फॉर्मर एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर उनके बेटे रतुल पुरी, डायरेक्टर विनीत शर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी, आपराधिक साजिश रचने व जालसाजी करने का मामला दर्ज किया गया है। नीता पुरी सीएम कमलनाथ की बहन है, जबकि रतुल पुरी भांजा। वहीं, मोजर बेयर कंपनी ग्रेटर नोएडा में है। कुछ माह पहले ही सीबीआई की टीम ने नोएडा और ग्रेटर नोएडा स्थित कंपनी के आॅफिसों पर छापेमारी की थी।

बता दें कि पिछले माह दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू मार्ग स्थित एमटीएनएल की बिल्डिंग में रतुल पुरी को ईडी दफ्तर में पूछताछ के लिए बुलाया गया था। ईडी की तरफ से उनसे वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले में पूछताछ की जानी थी। कुछ देर बाद उन्हें आंशका हुई कि ईडी की टीम गिरफ्तार कर सकती है। बताया गया है कि रतुल पुरी टॉयलेट जाने की बात कहकर ईडी दफ्तर से निकल गए। जांच अधिकारी के पास रतुल पुरी काफी देर तक नहीं पहुंचे तो उनकी खोजबीन शुरू की गई। लेकिन वे नहीं मिले।

यह भी पढ़ें: पाई पाई जोड़कर बनाया था सपनों का आशियाना, नदी ने कुछ ही पलों में कैसे कर दिया उसे धराशायी