स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हिमाचल में बर्फबारी का आनंद लेना है तो छुट्टियां बढ़ाइए

Dhiraj Kumar Sharma

Publish: Dec 31, 2019 12:58 PM | Updated: Dec 31, 2019 12:58 PM

New Delhi

  • Wheather Updates हिमाचल प्रदेश में Heavy Snowfall
  • देशभर में सर्द हुआ मौसम
  • कई इलाकों में शून्य से नीचे उतरा पारा

नई दिल्ली। अगर आप नए साल से पहले हिमाचल ( Himachal Pradesh ) की वादियों में जा रहे हैं और बर्फबारी का आनंद लेना चाहते हैं तो अपनी छुट्टियों को कुछ और आगे तक बढ़ा लीजिए, क्योंकि भारतीय मौसम विभाग ( IMD ) ने तीन जनवरी तक बर्फबारी का अनुमान लगाया है। स्थानीय मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया, "क्षेत्र में 31 दिसंबर से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो जाएगा। एक जनवरी से तीन जनवरी के बीच बर्फबारी की संभावना है।"

उन्होंने कहा कि एक जनवरी से शिमला, कुफरी, नारकंडा, मनाली, कल्पा और डलहौजी में बर्फबारी की संभावना अधिक है।

महारष्ट्र में कैबिनेट का विस्तार, अजित पवार के शपथ लेते ही शिवसेना विधायक ने की इस्तीफे की तैयारी

आतिथ्य (हॉस्पिटैलिटी) उद्योग से जुड़े लोगों का कहना है कि अधिकांश पर्यटक नए साल की पूर्व संध्या पर बर्फबारी की संभावना के बारे में जानकारी ले रहे हैं।

पहाड़ों पर पिछले कुछ समय से धूप खिलने के बावजूद शिमला, कुफरी, कसौली, चायल, धर्मशाला, पालमपुर और मनाली के अधिकांश होटल नए साल की पूर्व संध्या पर मस्ती करने वाले लोगों से खचाखच भर चुके हैं।

हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम (एचपीटीडीसी) की महाप्रबंधक पूनम भारद्वाज ने आईएएनएस को बताया, "शिमला और मनाली स्थित हमारी अधिकांश जगहों पर दो जनवरी तक लगभग 80 फीसदी बुकिंग हो चुकी है।"

पर्यटन उद्योग के विशेषज्ञों का कहना है कि नए साल में राज्य में 50,000 से अधिक पर्यटकों के आने की संभावना है।

भारद्वाज ने कहा कि सबसे अधिक पर्यटक कुफरी, कसौली, नारकंडा, मनाली, डलहौजी, धर्मशाला और पालमपुर में पहुंचे हैं।

बर्फबारी खासकर मैदानी इलाकों से आने वाले सैलानियों के लिए हमेशा एक खास आकर्षण का केंद्र होती है।

शिमला से लगभग 65 किलोमीटर दूर लोकप्रिय पर्यटन शहर नारकंडा अभी भी बर्फ की चादर में ढका हुआ है।

शिमला इमारतों की शाही भव्यता के लिए जाना जाता है, जो कभी ब्रिटिश भारत की ग्रीष्मकालीन राजधानी थी। यहां 12 दिसंबर को मौसम की पहली बर्फबारी हुई थी, लेकिन बर्फ कुछ ही घंटों में पिघल गई।

नई दिल्ली के एक जोड़े निहारिका व अमित अग्रवाल ने कहा कि अगर बर्फबारी की संभावना है तो वे अपने नए साल की छुट्टियों को और आगे बढ़ा सकते हैं।

मनाली स्थित ट्रैवल एजेंट दीपक ठाकुर ने कहा कि बर्फ जमा होने के कारण नए साल के जश्न के लिए होटलों को अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है।

उन्होंने कहा कि मनाली राज्य का एकमात्र ऐसा गंतव्य है, जहां पूरे शहर में या इसके आसपास के क्षेत्र में बर्फबारी का आनंद लिया जा सकता है।

मौसम विभाग के अनुसार, वर्ष 2002 में शिमला में नए साल की पूर्व संध्या पर बर्फबारी हुई थी।

[MORE_ADVERTISE1]