स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कारगिल विजय दौड़: शहीदों की याद में सैनिकों के साथ दौड़ी दिल्ली, विजय चौक से इंडिया गेट तक विक्ट्री रन

Mohit sharma

Publish: Jul 21, 2019 08:19 AM | Updated: Jul 21, 2019 15:08 PM

New Delhi

  • Kargil Vijay Diwas के उपलक्ष्य में Kargil 'victory run'
  • दिल्ली के विजय चौक से शुरू हुई कारगिल विजय दौड़
  • Kargil 'victory run' की शुरुआत लेफ्टिनेंट जनरल अश्वनी ने की

नई दिल्ली। कारगिल विजय दिवस ( Kargil Vijay Diwas ) के उपलक्ष्य में जहां देश भर में तरह-तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं, वहीं राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कारगिल विजय दौड़ ( Kargil Victory Run ) शुरू हो गई है। कारगिल विजय दौड़ दिल्ली के विजय चौक से शुरू हुई है। आपको बता दें कि इस साल 26 जुलाई को कारगिल विजय के 20 साल पूरे हो रहे हैं।

 

कारगिल विजय दौड़ ( Kargil Victory Run ) की शुरुआत लेफ्टिनेंट जनरल अश्वनी कुमार ने झंडी दिखाकर की। गौरतलब है किे इस दौड़ को हर साल कारगिल विजय दिवस ( Kargil Vijay Diwas ) के उपलक्ष्य में आयोजित किया जाता है। यह दौड़ विजय चौक से शुरू होकर इंडिया गेट पर समाप्त होगी।

कारगिल विजय दिवस: कश्मीर पहुंचे राजनाथ सिंह, शहीदों को किया नमन

 

कारगिल विजय दौड़ ( Kargil Victory Run ) की सबसे बड़ी खासियत यह है कि शहीदों की याद में होने वाले इस विशेष कार्यक्रम में आम लोगों के साथ सेना के जवानों को भी दौड़ने का अवसर मिलता है।

 

Kargil Victory Run

इससे पहले भारतीय सेना की ओर से ट्विटर पर कहा गया कि करगिल के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए राजधानी के विजय चौक पर करगिल विजय दौड़ ( Kargil Victory Run ) आयोजित की गई है। सेना ने इस दौरान सभी से 21 जुलाई सुबह 6 बजे विजय चौक पहुंचने की अपील भी की।

महिलाओं की सच्ची हितैषी थीं शीला दीक्षित, यूएन में बुलंद की थी भारत की आवाज

 

Kargil Victory Run

इसके साथ ही दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में 27 जुलाई शाम 4 बजे मुख्य कार्यक्रम आयोजित होगा। सेना के इस विशेष कार्यक्रम ( Kargil Victory Run ) में मिलिटरी की डिस्प्ले टीम, नेवी के ड्रमर्स, शिलॉन्ग चैम्बर्स कोयर्स के आर्टिस्ट और फिल्म जगत के मशहूर गायक मोहित चौहान भाग लेंगे।

शीला दीक्षित का सियासी सफरः 15 साल तक रहीं CM फिर भी मिला 5 साल का अज्ञातवास

Kargil Victory Run