स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यहां ट्रेन आने से पहले फूल हो रहे प्लेटफार्म

Subodh Kumar Tripathi

Publish: Oct 31, 2019 12:53 PM | Updated: Oct 31, 2019 12:53 PM

Neemuch

यहां ट्रेन आने से पहले फूल हो रहे प्लेटफार्म

नीमच. दीपावली अवकाश खत्म होते ही ट्रेनों में दिनों दिन रश बढऩे लगा है। हालात यह है कि ट्रेन आने से पहले प्लेटफार्म खचाखच हो गया था। जैसे ही ट्रेन आकर प्लेटफार्म पर खड़ी हुई। यात्री उतरने से पहले प्लेटफार्म पर खड़े यात्री चढऩे की मश्क्कत कर रहे थे। ताकि ट्रेन में बैठने भर की जगह मिल जाए। लेकिन आश्चर्य की बात है कि काफी मश्क्कत के बाद भी कई यात्रियों को जगह नहीं मिली तो कोई खड़े होकर तो कोई गेट के समीप बैठकर यात्रा करने को मजबूर नजर आए।


1 घंटे लेट आई ट्रेन, इंतजार करते रहे यात्री
चित्तोडग़ढ़ से रतलाम की ओर जाने वाली ट्रेन दोपहर करीब सवा तीन बजे आती है। लेकिन बुधवार को करीब एक घंटे लेट करीब 4 बजकर 20 मिनट पर आई। ऐसे में यात्री ट्रेनों का काफी देर तक इंतजार करते रहे। ऐसे में देखते देखते यात्रियों की संख्या भी बढ़ती जा रही थी। ट्रेन आने तक पूरा प्लेटफार्म यात्रियों से खचाखच भर चुका था। इस कारण जैसे ही प्लेटफार्म पर आकर ट्रेन रूकी तो हर कोई सीट के चक्कर में ट्रेन में चढऩे का प्रयास करने लगा, ऐसे में उतरने वाले यात्रियों को भी काफी मश्क्कत का सामना करना पड़ा।


अधिकतर ट्रेनें चल रही है फूल, एक सप्ताह तक वेटिंग
नीमच से भोपाल की ओर जाने वाली ट्रेनों में बुधवार शाम की स्थिति के अनुसार 31 अक्टूबर के लिए टिकिट उपलब्ध नहीं, वहीं 5 नवंबर तक 50 से 60 तक वेेटिंग आ रहा है। ऐसे में निश्चित ही यात्रियों को इस एक सप्ताह में यात्रा करने के लिए कंफर्म टिकिट मिलना काफी मुश्किल रहेगा। इसी प्रकार इंदौर जाने वाली ट्रेन में भी 25 से लेकर 44 तक वेटिंग आ रही है। ऐसे ही हालात नीमच से जयपुर और अन्य बड़े शहरों की ओर आवाजाही करने वाली ट्रेनों में नजर आ रहे हैं। क्योंकि दीपावली अवकाश खत्म होने के कारण लोग दीपावली मनाकर अब अपनी अपनी नौकरी और जहां कामकाज करते हैं वहां लौटने लगे हैं।


नीमच से प्रतिदिन पांच हजार से अधिक यात्री कर रहे सफर
नीमच से प्रतिदिन करीब 2 हजार से अधिक यात्री सामान्य टिकिटों से अन्य शहरों की ओर यात्रा कर रहे हैं। ऐसे में यात्रियों की संख्या भी 2 से 2500 के करीब रहती है। इतने ही यात्री प्रतिदिन नीमच आ रहे हैं। इस मान से प्रतिदिन औसत 5 हजार से अधिक यात्री ट्रेनों का सफर कर रहे हैं। जिससे ट्रेनों में काफी रश नजर आने लगा है। माना जा रहा है कि एक सप्ताह तक ट्रेनों की स्थिति यह रहेगी। इसके बाद दिनों दिन स्थिति सामान्य होगी।

[MORE_ADVERTISE1]