स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यहां नहीं चला रेडियो पर प्रसारण, तो इस प्रकार किया सूर्य नमस्कार

Subodh Kumar Tripathi

Publish: Jan 13, 2020 12:52 PM | Updated: Jan 13, 2020 12:52 PM

Neemuch

यहां नहीं चला रेडियो पर प्रसारण, तो इस प्रकार किया सूर्य नमस्कार

नीमच. स्वामी विवेकानंद का जन्म दिन रविवार को जिलेभर में युवा दिवस के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर जहां जिला मुख्यालय पर सामुहिक सूर्य नमस्कार का आयोजन हुआ। वहीं अंचलों के विद्यालयों में सामुहिक रूप से सूर्य नमस्कार, योग प्राणायाम आदि के आयोजन हुए। जिसमें सैंकड़ों की संख्या में विद्यार्थियों, समाजसेवियों, जनप्रतिनिधियों, विद्यालय स्टॉफ आदि ने भाग लिया।
जिला मुख्यालय पर शासकीय कन्या उमावि नीमच कैंट में अपर कलेक्टर विनय कुमार धोका, एसडीएम एसएल शाक्य, सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल, जिला क्रीड़ा अधिकारी सावित्री मालवीय, अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक प्रलयकुमार उपाध्याय, जनप्रतिनिधि राजकुमार अहीर, उमरावसिंह गुर्जर, जिला योग प्रभारी श्यामलाल मालवीय, प्राचार्य निर्मला अग्रवाल सहित स्टॉफ एवं सैंकड़ों की संख्या में बालिकाएं उपस्थित रही।
नहीं हो पाया रेडियों पर प्रसारण
वैसे तो हर बार रेडियो पर होनेे वाले प्रसारण के आधार पर सूर्य नमस्कार सहित अन्य गतिविधियां करवाई जाती है। लेकिन इस बार रेडियो पर प्रसारण नहीं हो पाया, ऐसे में एक के बाद एक करीब तीन रेडियो को चलाकर देख लिया, लेकिन आगे से ही कार्यक्रम रिलीज नहीं होने के कारण बाद में योग शिक्षक श्यामलाल मालवीय द्वारा सूर्य नमस्कार सहित अन्य योग प्राणायम करवाए गए। रेडियो नहीं चल पाने के कारण करीब १० मिनट इंतजार किया, इसके बाद करीब ९ बजकर १० मिनट से सूर्य नमस्कार का कार्यक्रम प्रारंभ हुआ, जो दस बजे तक चला।
इस अवसर पर कतारबद्ध तरीके से प्रार्थनामुद्रा में हस्तउत्सासन, पादहासन, अश्वसंत्वासन, पर्वतासन, अष्टांग, भुजगांसन कर सूर्य नमस्कार के सात आसानों की 12 स्थितियों के क्रम को दोहराया। साथ ही अनुलोम, विलोम, प्राणायाम, भस्त्रिका प्राणायाम एवं भ्रामरी प्राणायाम भी किया। इसी तरह जिले की सभी हाईस्कूल एवं हायर सेकेंडरी स्कूल में भी सामुहिक सूर्य नमस्कार एंव प्राणायाम किया गया। जिसमें जिले के हजारों विद्यार्थियों ने इस अनूठे कार्यक्रम में भाग लिया। प्रारंम्भ में राष्ट्रीय गीत, वन्देमातरम् एवं मध्यप्रदेश गान का सामुहिक गायन किया गया। अंत में राष्ट्रगॉन के साथ ही कार्यक्रम का समापन हुआ।
--------------------

[MORE_ADVERTISE1]