स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यहां पुलिस को देख क्यों चौक गए लोग पढ़े पूरी खबर

Mukesh Sharaiya

Publish: Dec 07, 2019 13:40 PM | Updated: Dec 07, 2019 13:40 PM

Neemuch

पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने संवेदनशील क्षेत्रों का किया सघन भ्रमण

नीमच. शौर्य दिवस के अवसर पर जिला मुख्यालय सहित जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में पुलिस की चाक चौबंद व्यवस्था रही। संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस दिनभर गश्त पर रही। जिले में करीब 550 जवान मुस्तैदी से सुरक्षा व्यवस्था संभाले रहे।
एक दिन पहले हुई होटल, ढाबों की जांच
6 दिसंबर को शौर्य दिवस पर किसी प्रकार की अप्रिय स्थिति न निर्मित हो इस बात को ध्यान में रखते हुए पुलिस प्रशासन एक दिन पहले से ही मुस्तैद हो गया था। संवेदनशील क्षेत्रों में गश्त बढ़ा दी गई थी। होटलों, लॉज, ढाबों आदि पर 5 दिसंबर को ही जांच कर ली गई थी। कहीं से संदिग्ध सामग्री या व्यक्ति नहीं मिला। शुक्रवार को जिला मुख्यालय पर बड़े मंदिर-मस्जिदों सहित धार्मिक स्थालों पर एक-चार का बल तैनात किया गया था। जिला मुख्यालय के नीमच कैंट, उपनगर नीमच सिटी और बघाना थाना क्षेत्रों के 70 स्थानों पर विशेष निगरानी रखी गई थी। जिले में 43 मोबाइल की मदद से पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भ्रमण कर रहे थे। जिले को विभिन्न सेक्टरों में बांट कर जिम्मेदारी सौंपी गई थी।
पूरी तैयारी के साथ चौकस था बल
जिले के संवेदनशील क्षेत्रों में गस्त के दौरान पुलिस बल पूरी तरह मुस्तैद था। सभी जवान हथियारों के साथ ड्यूटी दे रहे थे। पुलिस कंट्रोल रूम पर 3 वज्र वाहनों के साथ 50 जवान आपातकालीन व्यवस्था के लिए तैनात किए गए थे। मनासा और जावद थाने पर भी 25-25 जवानों टुकड़ी तैयार रखी गई थी। सिंगोली और रामपुरा थाने पर भी सुरक्षा के मद्देनजर बल भेजा गया था। जिले में नमाज के दौरान विशेष इंतजाम किए गए थे। कहीं से भी अप्रिय स्थिति निर्मित होने की सूचना नहीं मिली। सुरक्षा की दृष्टि से बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की तलाश भी ली गई। कहीं संदिग्ध सामग्री बरामद नहीं हुई।
जिले में शौर्य दिवस पर बल रहा मुस्तैद
जिले में शौर्य दिवस पर किसी प्रकार की अप्रिय स्थिति निर्मित नहीं हुई। 550 जवान दिनभर मुस्तैदी से तैनात रहे। संवदेनशील क्षेत्रों में पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों ने भ्रमण कर हालात का जायजा लिया।
- राजीव मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक

[MORE_ADVERTISE1]