स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नीमच जिले की सबसे खुबसूरत इन वादियोंं में रमे जिलेवासी

Subodh Kumar Tripathi

Publish: Aug 19, 2019 12:30 PM | Updated: Aug 19, 2019 12:30 PM

Neemuch

नीमच जिले की सबसे खुबसूरत इन वादियोंं में रमे जिलेवासी

नीमच. मौसम खुलते ही रविवार को जिलेभर के पर्यटन स्थलों पर हजारों की संख्या में लोग प्रकृति और पर्यावरण का लुत्फ लेते नजर आए। कोई पहाडिय़ों से गिरते झरने में नहाने का लुत्फ ले रहा था, तो कोई अरावली की पहाडिय़ों पर छाई हरियाली और जगह जगह से गिरते झरने का निहारते नजर आए। वहीं जिले के मोरवन डेम और जाजू सागर बांध में चली चादर में भी नहाने के लिए सैंकड़ों की संख्या में जिलेवासी पहुंचे।


रविवार का अवकाश और बारिश के बाद खुला मौसम, यह अवसर जिलेवासियों के लिए सोने पर सुहागा जैस रहा, क्योंकि वर्तमान में चहुं ओर फैली हरियाली और वातावरण हर किसी को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। इस समय शहर से बाहर पहाडिय़ों से गिरते झरने की कल कल करती आवाज और डेम से बहती चादर का नजारा देखकर ऐसा लगता है जैसे प्रकृति ने अपनी पूरी सुदंरता बिखेर दी हो।

मोरवन डेम पर दिनभर दिखा युवाओं का उत्साह
मोरवन. बारिश का मौसम खुलते ही रविवार को मोरवन डेम पर सैंकड़ों की संख्या में युवा नहाने और पानी की चादर में अटखेलियां करने का लुत्फ लेने पहुंचे। ऐसे में डेम की पूरी वेस्टवेयर पर एक छोर से दूसरे छोर तक युवक युवतियों और महिला पुरूष भी भीड़ लगी थी, ऐसे में बच्चे भी परिजनों के साथ इस अवसर का जमकर लुत्फ लेते नजर आए।

सुखानंद महादेव पर पहुंचे दस हजार से अधिक लोग

अठाना. जिला मुख्यालय से करीब ३० किलोमीटर दूर अरावली की पहाडिय़ों में स्थित सुखानंद महादेव पर रविवार को करीब १० हजार से अधिक लोगों ने पहुंचकर प्रकृति का लुत्फ लिया, यहां आने पर जहां एक ओर लोगों को भगवान भोलेनाथ के दर्शन कर धार्मिक लाभ मिलता है। वहीं पहाड़ी के ऊपर से गिरते झरने में नहाने का लुत्फ भी लेने से कोई पीछे नहीं हटता है। इस समय पहाड़ी में कई जगह से गिरते झरने का दृश्य हर किसी को रोमाङ्क्षचत कर रहा है।

 

शहर की प्यास बुझाने वाले जाजू सागर बांध में लिया नहाने का लुत्फ

शहरवासियों की साल भर प्यास बुझाने वाले जाजू सागर बांध की चादर यूं तो कब से छलक उठी थी। लेकिन बारिश लगातार होने के कारण शहरवासी इस अवसर का लुत्फ उठाने नहीं पहुंच पा रहे थे। इसी बीच जब रविवार को मौसम पूर्ण रूप से खुला तो कोई चार पहिया वाहन तो कोई दो पहिया वाहनों से जाजू सागर बांध पहुंचा। यहां जीरन, चीताखेड़ा, नीमच सहित आसपास के क्षेत्रों से सैंकड़ों लोग पहुंचे।