स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यहां के लोग क्यों हैं दहशत में पढ़ें पूरी खबर

Mukesh Sharaiya

Publish: Aug 19, 2019 13:39 PM | Updated: Aug 19, 2019 13:39 PM

Neemuch

यहां का प्रशासन बना हुआ है उदासीन, खामियाजा भुगत रही जनता

नीमच. यहां एक बार फिर ऐसे हालात बने हैं कि लोग दहशत में हैं। इस बार भी प्रशासनिक उदासीनता की वजह से ऐसा हो रहा है। जनता की सीधे सीधे कोई जवाबदेही नहीं बनती। इसके बाद भी खामियाजा भुगत रही है। समय रहते प्रशासन नहीं चेता तो हालात बदतर हो सकते हैं।

डेंगू मरीज सामने आने पर लोगों में दहशत
जिला मुख्यालय पर पिछले दिनों स्वास्थ्य विभाग की ओर से सर्वे कराया गया था। मलेरिया की रोकथाम के लिए कराए गए सर्वे में एक भी 6 ऐसे लोग सामने आए थे जिनमें डेंगू के लक्षण दिख रहे थे। जांच के लिए भेजी गई स्लाइड में एक भी मरीज पॉजीटिव नहीं निकला। इसके बाद बारिश और लगातार अवकाश होने से स्वास्थ्य विभाग की ओर से सर्वे कार्य रोक दिया गया था। अब एक महिला डेंगू के लक्षण पाए गए हैं। महिला का उदयपुर में इलाज चल रहा है। नीमच निवासी महिला को डेंगू होने के बाद से लोगोंं में दहशत फैल गई है।


पिछले साल 14 पॉजीटिव आए थे सामने
मलेरिया और डेंगू की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से एक जनवरी 19 से 15 जुलाई 19 के बीच कुल 39 हजार 473 स्लाइड बनाई गई थी। इनमें से केवल 2 मरीज ही पॉजीटिव (मलेरिया रोगी) पाए गए। इस समया में विभाग ने 60 हजार 138 स्लाइड बनाने का लक्ष्य रखा था। पिछले वर्ष 2018 (एक जनवरी से 31 दिसंबर 18) के बीच एक लाख 22 हजार 735 स्लाइड बनाने का लक्ष्य था। एक लाख 18 हजार 770 स्लाइड बनाई गई थी। इनमें से 442 मलेरिया पॉजीटिव पाए गए थे। इसी प्रकार पिछले साल 64 संदिग्ध मरीज सामने आए थे जिनमें डेंगू के लक्षण दिखाई दे रहे थे। सभी मरीजों की जांच कराई गई थी। इनमें से 14 मरीज पॉजीटिव पाए गए थे। इस साल अब तक 6 डेंगू के संदिग्ध सामने आए थे। इनकी जांच कराई गई तो एक भी पॉजीटिव सामने नहीं आया। विभाग की ओर से कराई गई जांच में भले डेंगू मरीज नहीं मिला, लेकिन उदयपुर में उपचार करा रही एक महिला के डेंगू पॉजीटिव होने के बाद से स्वास्थ्य विभाग भी सकते में है।
डेंगू मरीज मिलने बाद जागा प्रशासन
पिछले दिनों हजारों मकानों की जांच करने पर एक भी डेंगू का मरीज सामने नहीं आया था। अब जिला मुख्यालय की एक महिला के डेंगू पॉजीटिव पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग सचेत हुआ है। सीएमएचओ डा. एसएस बघेल ने स्वयं स्वीकार किया है कि मुझे भी डेंगू का एक मरीज मिलने की सूचना मिली है। इसके बाद सोमवार से फिर से टीम को लगाया जाए। पहले उस क्षेत्र में सर्वे कराएंगे जहां महिला निवास करती है। बारिश रुकने के बाद डेंगू और मलेरिया फैलाने वाले मच्छरों की प्रकोप भी बढ़ेगा। ऐसे में अभी से प्रयास तेज किए जाएंगे ताकि लोगों को मलेरिया और डेंगू से बचाया जा सके।
एक मरीज की हुई है पुष्टि
मुझे जानकारी मिली है कि नीमच में एक मरीज डेंगू पॉजीटिव पाया गया है। जिस क्षेत्र में मरीज मिला है वहां टीम भेजकर पूरे क्षेत्र की जांच कराई जाएगी। बारिश रुकने के बाद डेंगू के मरीज बढऩे की आशंका भी बढ़ जाती है। ऐसे हालात निर्मित न हों इसके लिए पूरी एहतियात बरते जाएंगे।
- डा. एसएस बघेल, सीएमएचओ