स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सीसीटीवी बैकअप हुआ नष्ट, पुलिस की जांच के लिए मुश्किल

Virendra Singh Rathore

Publish: Sep 22, 2019 12:19 PM | Updated: Sep 22, 2019 12:19 PM

Neemuch

- पीएनबी बैंक के लॉकर से 400 ग्राम सोने के आभूषण गायब होने का मामला

नीमच। शहर के टैगोर मार्ग स्थित पंजाब नेशनल बैंक की के लॉकर से एक ग्राहक के 400 ग्राम सोने आभूषण गायब होने के मामले में जहां बैंक मंे हडकंप मची हुई है। वहीं बैंक से सीसीटीवी फुटैज का बैकअप डिलीट होने पर जांच की मुश्किल और बड़ गई है। पुलिस सीसीटवी कैमरे की डीवीआर को बैकअप रिकवर करने के लिए भोपाल लेब भेजेगी। हालांकि मामले में पुलिस ने शाखा प्रबंधक के खिलाफ अमानत में खयानत का प्रकरण दर्ज कर मामले में जांच शुरू कर दी है।

सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल ने बताया कि पीएनबी बैंक के लॉकर से ग्राहक नेमीचंद भंडारी के 400 ग्राम आभूषण चोरी हुए है। उसका कहना था कि उसकी बैंक में ही चाबी गिर गई थी। जिसकी शिकायत उसने शाखा प्रबंधक को भी की थी। किसी कर्मचारी के हाथ चाबी लगी और आभूषण चोरी हुए हैं। बैंक की चाबी एक ग्राहक और दूसरी शाखा प्रबंधक के पास रहती है। उसके बाद आभूषण कैसे चोरी हुए है। इसकी जांच की जा रही है। हालांकि सीसीटीवी फुटैज उस दौरान के पुलिस को काफी मांगने के बाद बैंक द्वारा उपलब्ध नहीं कराए गए है। वहीं सीसीटीवी फुटैज की डीवीआर को भोपाल लेब भेजकर रिकवर किया जाएगा। अगर जांच के दौरान रिपोर्ट झूठी होने पर फरियादी के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

यह है मामला
फरियादी नेमीचंद भंडारी ने पीएनबी बैंक में लॉकर नंबर ३१९ ले रखा था। जिसमें नगदी और सोना रखा था। भंडारी के अनुसार लॉकर में आठ सोने की चेन, दो हार सोने के, सात अंगूठियां सोने की, दो सोने की नथ, तीन मंगलसूत्र इस प्रकार कुल 400 ग्राम सोने के आभूषण थे। नेमीचंद का कहना है कि 225 ग्राम सोने के आभूषण उसके स्वयं के पुश्तैनी है, जबकि 175 ग्राम आभूषण उसके दोस्त के हैं। उसके लॉकर की चाबी खो गई थी। जिस पर उसने बैंक को भी सूचित किया था। उसने 15 अप्रेल 2019 को डुप्लीकेट चाबी के लिए शाखा प्रबंधक को आवेदन दिया। जिसके लिए उससे शपथ पत्र मांगा गया। २९ अप्रेल २०१९ को बैंक आया, बाहर से बैंक लॉकर तोडऩे के लिए एक्सपर्ट बुलवाए गए थे। सुबह करीब साढे ११ बजे मैनेजर व अन्य स्टाफ की उपस्थिति में लॉकर खोला गया। लॉकर से आभूषण व नगदी गायब थी। बैंक में चाबी गुम होने पर किसी बैंककर्मी ने उसका दुरूपयोग कर रकम चोरी कर ली। लॉकर में करीब 15 लाख के आभूषण थे।