स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कुकड़ेश्वर में बही गुमटियां, सहस्त्र मुखेश्वर तलाब लबालब

Mahendra Kumar Upadhyay

Publish: Aug 17, 2019 11:15 AM | Updated: Aug 17, 2019 11:15 AM

Neemuch

लगातार बारिश के चलते कुकड़ेश्वर में नाले की दीवार भरभरा के गिरने से

नीमच. लगातार बारिश के चलते कुकड़ेश्वर में नाले की दीवार भरभरा के गिरने से शुक्रवार सुबह करीब चार चाय पानी की गुमटियां पानी में बह गई। वहीं दूसरी ओर सहस्त्र मुखेश्वर महादेव मंदिर में स्थित तालाब लबालब होकर भगवान मंदिर तक जा पहुंचा। इसी के साथ नगर में कई स्थानों पर बारिश से हुए जल भराव के कारण कई मोहल्लों में घुटने घुटने तक पानी भरा गया। इसी के साथ की आसपास के कई नदी नाले ऊफान पर होने से आवागमन पूर्ण रूप से अवरूद्ध रहा। भोलेनाथ के मंदिर के पीछे स्थित नाले के पास एक पेड़ गिरने से कुकड़ेश्वर साकरिया खेड़ी मार्ग कई घंटो तक बंद रहा। इसी के पास बने शौचालय भी गिर गए।
क्षेत्र में 48 घंटे से भी ज्यादा की झमाझम बारिश आफत बन कर टूटी है। नगर के दोनों नाले 2006 के बाद अपने पूरे उफान पर आ गए। जिससे सदर बाजार मुखर्जी चौक में पानी घुस गया लोगों की दुकानों में 2 से 3 फीट पानी चला गया। वहीं दूसरी ओर रामपुरा रोड पर पुलिया के पास सब्जी मंडी के पास नाले के पास नगर पंचायत द्वारा लगाई गई 16 गुमटियों में से करीब चार गुमटिया दीवार गिरने के कारण झुक गई। वहीं करीब ११ गुमटियां झुक गई। मौके पर विधायक अनिरूद्ध माधव मारू पहुंचे, जिन्होंने गुमटी संचालकों को विधायक निधि से ५-५ हजार रुपए की आर्थिक सहायता देने की मौके पर घोषणा की। वहीं बारिश के कारण दुकानों मेें घुसे पानी से दुकानदारों को हुए नुकसान की भरपाई आवेदन लेकर कलेक्टर से चर्चा कर मुआवजे का आश्वासन दिया। सांसद सुधीर गुप्ता ने भी कुकड़ेश्वर पहुंचकर मौका मुआयना किया,

राजस्व विभाग मुआवजा देगा तो ठीक वरना नगर पंचायत देगी। इस दीवार को बनाने में 50,000 खर्च आया है। इसका निर्माण भी नगर पंचायत की स्वीकृति से हुआ है। यह सब प्रकृति की वजह से हुआ है। प्रकृति के आगे सभी विवश है।
-केएल सूर्यवंशी, सीएमओ