स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एमपी के इस शहर में मोब लिचिंग की घटना, जमकर पीटा भीड़ ने और फिर मौत पढ़ें....

Virendra Singh Rathore

Publish: Jul 20, 2019 12:34 PM | Updated: Jul 20, 2019 12:34 PM

Neemuch

एमपी के इस शहर में मोब लिचिंग की घटना, जमकर पीटा भीड़ ने और फिर मौत पढ़ें....

नीमच। जिले में मॉब लिचिंग की घटना थमने का नाम नहीं ले रही है, अभी तीन दिन पहले भादवामाता मंदिर से बकरा व मुर्गा चारों को ग्रामीणों की भीड़ ने मारपीट कर उनकी बाइक जलाकर खाक कर दी थी, उसके बाद यह दूसरी घटना कुकड़ेश्वर थानांतर्गत गांव लसूडिय़ा आंतरी में शुक्रवार देर रात को सामने आई है। ग्रामीणों ने चार व्यक्ति को चोर समझकर पकड़ा। उनके पास से पांच मृत मोर बरामद होने पर भीड़ का आक्रोश बढ़ गया और राष्ट्रीय पक्षी के हत्यारों पर भीड़ ने मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान सूचना के बाद मौके पर पुलिस पहुंची, घायल को अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां उसकी मौत हो गई। जिसके बाद मामला गहरा गया। बांछड़ा समुदाय और गुर्जर समाज के लोगों में झगड़ा हो गया। पुलिस ने देर रात चार बजे मारपीट व दंगा करने में भी प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की है।

थाना प्रभारी अनुराधा ग्रेवाल ने बताया कि लसुडि़या आंतरी गांव में अंबालाल गुर्जर खेत पर रखवाली कर रहा था। इस दौरान रात को तीन-चार संदिग्धों को भागते देखा। गांव के लोगों को सूचित किया। इस दौरान चारों के पीछे ग्रामीण दौड़े। इस दौरान तीन चोर भाग निकले और एक चोर हीरालाल बांछड़ा उम्र 55 वर्ष ग्रामीणों के हाथ में आ गया। वह उसे मोटर साइकिल चोर समझ रहे थे। तब उसने बताया कि वह तो मोर चुराकर ले जा रहा था। कट्टे से पांच मोर मरे मिले। इस पर ग्रामीणों का आक्रोश और बढ़ गया। उसकी ग्रामीणों ने धुनाई कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस रात करीब पौने दो बजे मौके पर पहुंची और घायल को लेकर डॉयल १०० अस्पताल पहुंची। तब तक उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। जिसके बाद मामला गहरा गया। बांछड़ा समुदाय के कुछ लोग मारपीट करने वालों के घरों पर पहुंच गए। पुलिस को सूचना लगते ही मौके पर एसडीओपी और टीआई सहित पुलिस बल पहुंचा और मामले को शांत किया।

 

इन पर हुआ प्रकरण दर्ज
कुकड़ेश्वर पुलिस ने आरोपी अम्बालाल पिता गोपाल, घनश्याम पिता रामनारायण, रामदयाल पिता कारूलाल, शिवनारायण पिता रामेश्वर, विक्रम पित बगदिराम, विक्रम पिता बापूलाल, मुकेश पिता रामनारायण गुर्जर निवासी लसूडिय़ा आंतरी एवं रामसिंह पिता कारूलाल गायरी व अम्बालाल पिता रुघनाथ गुर्जर निवासी नलवा के विरुद्ध धारा 147, 149, 506, 307, 2 (3) व 3 (2), एससीएसटी एक्ट व बांछड़ा समुदाय के हीरालाल, पप्पू, बंशी व राहुल बांछड़ा पर वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की धारा 1971 (51), 1972 (9) तथा भारतीय दण्ड सहिंता की धारा 379 में प्रकरण दर्ज किया। वहीं रात को हीरालाल की मौत के बाद आरोपियों के खिलाफ धारा ३०२ में प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

 

कुछ नामजद आरोपी गिरफ्तार
लसुडिया आंतरी गांव में रात को चोर समझकर ग्रामीणों ने चार व्यक्ति का पीछा किया, इनमें एक हीरा बांछड़ा पकड़ा गया। जिसके पास से पांच मृत मोर मिले। गांव के आठ-दस लोगों ने चोरी पर मारपीट की। इस दौरान सूचना पर कुकडेश्वर थाना प्रभारी मय फोर्स के मौके पर पहुंची। जहां से घायल को अस्पताल लेकर पहुंचे। उसकी अस्पताल में इलाज दौरान मौत हो गई। पुलिस ने नामजद आरोपियों के खिलाफ मारपीट, हत्या, बलवा और एससीएसटी एक्ट में प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की है।
- राजीव कुमार मिश्रा, एससपी नीमच।