स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Rain : बारिश से लबालब हो गए जलाशय और तालाब

Narendra Shrivastava

Publish: Aug 21, 2019 23:28 PM | Updated: Aug 21, 2019 23:28 PM

Narsinghpur

बारिश, जलाशय, तालाब, खेत, बारिश का टारगेट, गोटेगांव न्यूज, नरसिंहपुर न्यूज

गोटेगांव। पिछले सालों में जितनी बारिश हुई उसकी तुलना में एक माह पूर्व ही पिछले समय हुई बारिश का टारगेट पूरा हो गया है और अभी तक इस साल 45 इंच वर्षा दर्ज हो गई है जबकि अभी बारिश का एक माह पूरा पड़ा हुआ है।
जलसंसाधन विभाग के सभी जलाशय पूरी तरह से लबालब हो गए हैं और उनके ओवर फ्लो से बारिश का पानी बाहर निकलने लगा है। जलसंसाधन विभाग का सबसे बड़ा जलाशय चिरचिटा डैम लबालब हो जाने के बाद इसके जरीए निकलने वाला ओवर पानी गोटेगांव के नाले में आ रहा है। जिसके कारण गोटेगांव परमहंसी रोड पर मौजूद बोगदा पुल के नीचे पानी भरा रहता है जिससे उक्त मार्ग से वाहन नहीं निकल पा रहे हैं बगासपुर श्रीनगर परमहंसी जाने के लिए गोटेगांव के अन्य रास्ते का इस्तेमाल वाहन वाले कर रहे हैं।

खेतों की प्यास पूरी
जिन किसानों ने अपने खेतों में खरीफ की फसल नहीं लगाई थी और बारिश के पानी के लिए अपने खेतों को खाली छोड़ दिया था वर्तमान समय में हुई बारिश के कारण ऐसे खाली पड़े किसानों के खेत पूरी तरह से लबालब हो गए हंै इनमें इतना अधिक बारिश का पानी भर गया है कि खेतों का पानी अपने मेढ़ से टकरा रहा है। वहीं कुछ खेतों का पानी मेढ़ के ऊपर से निकलने लगा है। अधिकांश इलाकों में ऐसे खेत पूरी तरह बारिश के पानी से भर जाने से उनकी प्यास पूरी हो गई है किसानों का अनुमान है कि खेतों में पूरा पानी भरने के कारण इसमें अगली उपज बहुत अच्छी निकलेगी।

मूर्ति विसर्जन तालाब भरा
गोटेगांव जबलपुर मार्ग पर मौजूद बगतला तालाब जिसमें गणेश और दुर्गा पर्व पर स्थापित की जाने वाली प्रतिमाओं का विसर्जन होता है। यह तालाब भी दो दिन से हो रही लगातार बारिश के कारण पूरी तरह से भर गया है। जबकि इस तालाब की गहराई अन्य तालाबों की तुलना में बहुत अधिक है। इस तालाब में एक सप्ताह पहले तक पानी नहीं भरने से प्रशासन के सामने समस्या खड़ी हो रही थी कि इसमें कैसे मूर्ति का विसर्जन कार्य सम्पन्न हो पाएगा। मगर अब तालाब पूरी तरह से भर जाने पर बुधवार को नगरपालिका अधिकारी मौसम पालेवार तालाब का अवलोकन करने के लिए पहुंचे क्योंकि यह तालाब पूरा भर चुका है। यदि और बारिश होती है तो तालाब का पानी ओवर हो जाएगा। वह कहां से बाहर निकलेगा उस स्थल का अवलोकन सीएमओ के द्वारा किया गया। वहीं इस तालाब के आस पास कोई नहीं जा पाए इस दिशा में भी कदम उठाया जा रहा है।

तालाब किनारे के घर डूबे
गोटेगांव मुरदई रोड पर श्रीदेव मुरलीधर स्कूल के सामने मौजूद तालाब के अंदर बहुत से लोगों ने अतिक्रमण करके अपनी झोपडिय़ों का निर्माण कार्य कर लिया था। इस सडक़ मार्ग से बहने वाला बारिश का पानी निकासी के लिए जहां पर जगह थी। वह बंद हो जाने से यहां का पूरा पानी उक्त तालाब के अंदर जा रहा है जिसके कारण उक्त तालाब के अंदर जिन्होंने अतिक्रमण करके झोपडिय़ों का निर्माण कर लिया था। वह बारिश के पानी के कारण अधिकांश डूब गई हैं। ऐसे परिवार को अपना डेरा उठा कर दूसरी जगह ले जाना पड़ा है।