स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

PM Housing : अधूरे पीएम आवास, किश्त का इंतजार

Narendra Shrivastava

Publish: Aug 22, 2019 21:03 PM | Updated: Aug 22, 2019 21:03 PM

Narsinghpur

सांईंखेड़ा में सात सौ से ज्यादा हितग्राही, पीएम आवास योजना, नगर परिषद की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह

सांईखेड़ा। केन्द्र्र सरकार की प्रधानमंत्री आवास योजना नगर परिषद सार्इंखेड़ा में कागजों और अपात्र हितग्राहियों के बीच आकर सिमट गई है। नगर परिषद में विगत वर्ष मई माह में प्रधानमंत्री आवास की प्रथम किस्त खातों में भेजी गई थी। इसके भरोसे हितग्राहियों ने अपने मकान तोडक़र निर्धारित मापदंड तक तय सीमा में काम करा लिया है लेकिन नगर में अभी तक बड़ी संख्या में हितग्राहियों की दूसरी किस्त नहीं भेजी जा सकी है।
इसके कारण इनके आवास अभी तक अधूरे पड़े हैं। हितग्राहियों ने बरसात, कडक़ड़ाती ठंड और 45 डिग्री तापमान में खुले में फ ट्टी पन्नी तानकर पूरा एक साल बिता दिया है। भादों मास में भी तेज बारिश में टपकती पन्नी में भीग कर अपनी रातें काट रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक नगर के विभिन्न वार्डों में दूसरी किश्त का इंतजार कर रहे हितग्राहियों का आंकड़ा सात सौ से अधिक है लेकिन प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों की समस्याओं की ओर नगर परिषद, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि और आला अधिकारियों का ध्यान नहीं है।
हितग्राहियों द्वारा बार-बार समस्याओं से आला अधिकारियों को अवगत कराया जा रहा है लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो सकी है। हितग्राहियों का आरोप है कि अधिकारी आवंटन का बहाना बनाकर लोगों को परेशान कर रहे हैं। उधर, बताया जाता है कि नगर परिषद के अन्य मदों में काफी राशि जमा हैं। इसे आला अधिकारियों की सहमति से शेष हितग्राहियों को राशि आवंटित की जा सकती है ताकि हितग्राहियों को राहत मिल सके। नगर परिषद की कार्यप्रणाली शुरू से चर्चा में रही है।
नगर परिषद में सीएमओ का आना-जाना लगा रहता है लेकिन किसी भी अधिकारी से आम राह न बनने से खींचतान की स्थिति बनी है। पहले विधानसभा फिर लोकसभा की आचार संहिता का बहाना बनाकर और आवंटित राशि खत्म होने की बात कहकर हितग्राहियों को भटकाया जा रहा है। लोगों ने मांग की है कि बरसात के समय में मानवीय रिश्तों को ध्यान में रखते हुए शीघ्र ही दूसरी किस्त का भुगतान किया जाए, जिससे बारिश के मौसम में उन्हें टपकते पानी में रहने से मुक्ति मिल सके।


राशि का आवंटन न होने से हितग्राहियों को भुगतान नही हो पा रहा है। परिषद के विभिन्न वार्डों में करीब सात सौ हितग्राहियों की दूसरी किस्त डालना बाकी है। जैसे ही शासन से राशि का आवंटन प्राप्त होगा, हितग्राहियों के लिए राशि वितरित कर दी जाएगी।
हरिशंकर वर्मा, सीएमओ, नगर परिषद साईंखेड़ा