स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हाईकोर्ट पहुंचा स्टेशन पर कोयला डंप करने का मामला

Ajay Khare

Publish: Aug 10, 2019 22:04 PM | Updated: Aug 10, 2019 22:04 PM

Narsinghpur

कोल डस्ट से बीमार हो रहे लोग, यात्रियों को हो रही परेशानी

नरसिंहपुर. गाडरवारा चीचली स्थित एनटीपीसी प्लांट के लिए कोल सप्लाई हेतु रेल लाइन डाली गई है। इसके बावजूद गाडरवारा स्टेशन पर कोयला डंप किया जा रहा है। इतना ही नहीं प्लेटफार्म क्रमांक २ का रास्ता भी बंद कर दिया गया है। जिसकी वजह से लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। कोयला की डस्ट से लोग बीमार हो रहे हैं साथ ही रास्ता बंद होने से काफी दूर का रास्ता तय करने को मजबूर हो रहे हैं। इन्हीं समस्याओं को लेकर हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका ( डब्ल्यूपी/१२७०८/२०१९)दायर की गई है।

इस संबंध में जिला मुख्यालय पर प्रेस कॉन्फें्रस में जानकारी देते हुए याचिकाकर्ता
पप्पू कौरव व रविन्द्र वर्मा ने बताया कि नियमविरुद्ध तरीके से कोयला डंप किया जा रहा है। कोयले की डस्ट रेलवे स्टेशन गाडरवारा के प्लेट फार्म क्रमांक 2 एवं इस कोयले के संग्रहण स्थल के आसपास निवास करने वाले लोगों के घरों में जा रही है। जिसका सीधा असर लोगों के स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। जिसके चलते आसपास के कई लोग यहां से दूसरे जगह रहने को विवश हो रहे हैं। कई परिवार मजबूर होकर यहां से अपने घर छोडक़र दूसरी जगह रहने लगे हैं साथ ही रेल यात्रियों को भी परेशानी हो रही है। एनटीपीसी प्रबंधन आमजनता की इस समस्या को नजर अंदाज कर अपनी संवेदनहीनता का परिचय दे रहा है। रविन्द्र वर्मा एवं पप्पू कौरव ने बताया कि इस समस्या की शिकायत क्षेत्रीय सांसद और विधायक से भी की गई है। पूर्व में जिला प्रशासन, एनटीपीसी प्रबंधन, रेलवे के जीएम से शिकायत की जा चुकी है पर कोई सुनवाई न होने पर कोर्ट का सहारा लेना पड़ा है।