स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गुंडों की दहशत खत्म करने पुलिस ने उठाया अब ये 'प्रहारी' कदम....

Lalit Saxena

Publish: Jul 13, 2019 07:23 AM | Updated: Jul 12, 2019 23:17 PM

Nagda

गुर्जर भाइयों की दहशत खत्म, 20 साल पहले किराए से मकान लेकर कर लिया कब्जा, पुलिस ने एसी, फ्रीज समेत पूरा सामान कराया खाली

उज्जैन। ढांचा भवन क्षेत्र में रौनक-रोशन गुर्जर व साथियों द्वारा किराए पर लेकर दो मकानों में किए कब्जे व एक के मकान का रास्ता दादागीरी से बंद करने पर पुलिस का डंडा चला। शुक्रवार को चिमनगंज मंडी पुलिस ने नगर निगम टीम के साथ दो मकानों के ताले तोड़े और मालिकों को कब्जे दिलाए। एक मकान में तो एसी, फ्रीज सहित गृहस्थी का पूरा सामान था। इसे निगम के ट्रैक्टर में भरकर हटाया। इसमें 20 साल से कब्जा बताया जा रहा है। वहीं एक अन्य मकान को भी कब्जे से मुक्त कराया। अब पुलिस गुर्जर के अवैध मकानों पर निगम का बुलडोजर चलवाएगी।

संपत्तियों पर कब्जे करने के आदी थे
शहर में दहशत फैलाने वाले बदमाश रौनक-रोशन गुर्जर व इनकी गैंग के लोग क्षेत्र में संपत्तियों पर कब्जे करने के आदी थे। किसी से भी किराए पर मकान ले लेना और फिर दादागीरी दिखाकर कब्जा। कुछ मकान तो इन्होंने अन्य किराएदारों से सीधे ले लिए और अड़ीबाजी करने लगे। पुलिस को हुई शिकायत के बाद सीएसपी करणसिंह रावत ने निगम जोन ५ के अधिकारियों की मौजूदगी में कब्जों को खाली कराकर लोगों को राहत दी। कार्रवाई में सहा. आयुक्त सुबोध जैन, जोन उपयंत्री अर्पित चत्तर, गैंग प्रभारी मोनू थनवार भी शामिल रहे।

इनके मकानों पर थे कब्जे, आतंक से छुटकारा
1 -बक्षी बाजार निवासी गोपाल सोनी के ढांचा भवन क्षेत्र स्थित मकान को गुर्जर भाइयों ने किसी तरह किराए पर ले लिया था। सालों से ये ना तो किराया देते थे ना ही मकान खाली कर रहे थे। पुलिस की मौजूदगी में निगम ने घर से ट्रैक्टर भरकर सामान खाली कराया और समीप के बगीचे में बने निगम के कक्ष में रखवाकर ताला लगा दिया। इसकी चाबी पुलिस थाने में जमा कर दी गई।

2 - ढांचा भवन क्षेत्र में स्थित राजू बाई पति भैरूलाल के मकान का कब्जा उनकी बहू सावित्री देवी को दिलाया। राजू बाई का निधन हो चुका, लेकिन इनके दो कक्षों में भी गुर्जरों ने कब्जा जमा रखा था। ये परिवार अरविंद नगर में रहता है। ताला तोड़कर पुलिस ने मकान पर वास्तविक मालिक को कब्जा दिलाया। ये मकान ४ साल से इनके कब्जे में था।

3 - सांदीपनि नगर स्थित गुर्जर के मकान के पीछे रहने वाले गोपाल राठौर के मकान के भाग व रास्ते पर भी गुर्जरों ने अवैध कब्जा कर रखा था। पुलिस ने निगम टीम ने इस कब्जे को तुड़वाया और रास्ता फ्री कराया। अब गुर्जरों के अवैध निर्माण सहित पूरे मकान पर निगम का बुलडोजर चलाने की तैयारी है।

इनका कहना -
बदमाश गुर्जरों ने दो मकानों पर अवैध कब्जा कर रखा था, मकान मालिक सालों से परेशान थे। इनकी शिकायत पर निगम दल के सहयोग से कब्जा खाली कराया। साथ ही एक परिवार इनके द्वारा रास्ता बंद किए जाने से परेशान था। इसे भी खुलवाया गया। अब गुर्जरों के अवैध निर्माण को जमींदोज कराएंगे।

- करणसिंह रावत, सीएसपी, देवासगेट सर्किल