स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वीडियो : कार की टक्कर से हुई विनोद की मौत, जोधपुर के गैराज में मिली

Shyam Lal Choudhary

Publish: Dec 08, 2019 20:46 PM | Updated: Dec 08, 2019 20:46 PM

Nagaur

Vinod's death due to a car collision, found in a garage in Jodhpur, कोतवाली पुलिस ने तीन दिन में किया खुलासा, दुर्घटनास्थल पर मिले कार कम्पनी के लोगो से सुलझी पहेली

नागौर. शहर के निकट डेह रोड स्थित थाम्बोलाई नाडी के पास गत 5 दिसम्बर की रात को मिले शव के बाद परिजनों द्वारा दर्ज करवाए गए मामले का कोतवाली पुलिस ने तीन दिन में खुलासा कर दिया है। दरअसल, विनोद फिड़ौदा की मौत कार की टक्कर से हुई। दुर्घटना के बाद कार चालक मौके से बीकानेर की ओर भाग गया, लेकिन श्रीबालाजी में कार बंद हो गई, जिसके बाद उसने अपने मित्र की सहायता से कार को दूसरे वाहन से जोडकऱ नोखा पहुंचाया, जहां से फिर जोधपुर ले गए। पुलिस ने जांच-पड़ताल करते हुए कार को जोधपुर के गैरेज से जब्त किया है, जिसका आगे का हिस्सा व कांच क्षतिग्रस्त है।

गौरतलब है कि गत 6 दिसम्बर को फिड़ौद निवासी हाल नागौर के खत्रीपुरा में रहने वाले सुखराम ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट देकर बताया कि अज्ञात लोगों ने उसके पुत्र विनोद हत्या कर सबूत मिटाने के लिए शव को डेह रोड स्थित थाम्बोलाई नाडी के पास सडक़ किनारे डाल दिया। सुखराम की रिपोर्ट पर पुलिस ने हत्या व सबूत मिटाने की धारा में मामला दर्ज कर जांच उप निरीक्षक नरोत्तम सिंह को सौंपी। एसपी विकास पाठक के निर्देश पर नागौर एएसपी रामकुमार कस्वां व वृत्ताधिकारी तेजपालसिंह के सुपरविजन में कोतवाली थानाधिकारी अमराराम खोखर व सुरपालिया थानाधिकारी सिद्धार्थ प्रजापत के नेतृत्व में अलग-अलग टीमें बनाकर मामले का खुलासा करने के प्रयास किए गए।

लोगो बना अहम सुराग
कोतवाली थानाधिकारी खोखर ने बताया कि दुर्घटना के बाद पुलिस को मौके से शेवरलेट कम्पनी का लोगो मिला, जो कार के आगे लगा होता है। हरिमा टोल पर जोधपुर जिले के नम्बर की जो कार निकली, उस पर वह लोगो लगा हुआ था। इससे पुलिस का शक बढ़ गया। पुलिस ने कार का पता लगाया तो जोधपुर के गैराज में मिली, जिसका आगे का हिस्सा व कांच पूरी तरह क्षतिग्रस्त था। कार के आगे लोगो नहीं होने से पुलिस का शक यकीन में बदल गया। पुलिस ने कार जब्त कर दुर्घटना के समय कार चलाने वलो जसराज को भी दस्तयाब किया है।

[MORE_ADVERTISE1]