स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

युवती ने दर्ज कराया बलात्कार का मामला

Suresh Vyas

Publish: Sep 19, 2019 22:50 PM | Updated: Sep 19, 2019 22:50 PM

Nagaur

बीस दिन पहले हुई थी लापता, आरोपियों की धमकी के कारण पहले बताई रामदेवरा जाने की झूठी कहानी

कुचेरा. पुलिस थाने में एक युवती ने बलात्कार का मामला दर्ज कराया है। थानाधिकारी देवीलाल बिश्नोई ने बताया कि युवती ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि गत 29 अगस्त को दिन में साढे ग्यारह बजे के करीब वह कपड़े सिलवाने के लिए अपने घर से निकली थी। इस दौरान ढावा निवासी रामावतार पुत्र रामचन्द्र जाट, रामचन्द्र पुत्र किसनाराम, महेन्द्र पुत्र रामचन्द्र व रमजीराम पुत्र बुधाराम गाड़ी लेकर आए। उसे जबरन उठाकर गाड़ी में डाल दिया। वह शोर मचाने लगी तो रामावतार ने जोरदार थप्पड़मारा और चिल्लाने पर गला दबाकर मारने की धमकी देते हुए चुपचाप साथ चलने को कहा। वे लोग उसे नागौर कोर्ट में ले गए। वहां कुछ दस्तावेज तैयार करवाकर जबरन उन पर हस्ताक्षर करवा लिए। उसके बाद उसे रामावतार के ननिहाल निम्बड़ी चांदावतां ले गए। वहां रामवतार ने उसके साथ बलात्कार किया। युवती ने बताया कि दूसरे दिन उसे रामावतार की मौसी के घर छीलरा की ढाणी ले गए, वहां पर भी रामावतार ने खोटा काम किया। उसके बाद वे उसे बीकानेर ले गए, जहां किसी जानकार के घर तीन चार दिन उसके साथ बलात्कार किया। चिल्लाने पर उसे व परिवार को मारने की धमकी दी। धमकी के डर से उसने पुलिस को पहले आपबीती नहीं बताई और रामदेवरा जाने की झूठी जानकारी दी। परिवादिया ने बताया कि आरोपी अब भी रात के समय उसके घर में घुस आते हैं और मौका मिलने पर उसे उठा ले जाने की धमकियां देते हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की।
पुलिस को पहले बताया रामदेवरा जाना
पुलिस के अनुसार एक व्यक्ति ने गत 30 अगस्त को रिपोर्ट दी कि उसकी बेटी बिना बताए घर से निकल गई। इस पर पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर जांच शुरू की। रिपोर्ट दर्ज होने का पता चलने पर युवती चार सितम्बर को खुद पुलिस थाने में पेश हुई और पुलिस को रामदेवरा जाने का बताते हुए पिता के साथ जाने की इच्छा जताई। पुलिस ने उसकी इच्छा पर उसे पिता के सुपुर्द कर दिया था।