स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सांसद बेनीवाल के आवास पर जनसुनवाई में उमड़ी भीड़, सेना भर्ती नियमों के मामले में युवाओं ने सौंपा ज्ञापन

abdul bari

Publish: Jul 20, 2019 23:27 PM | Updated: Jul 21, 2019 01:13 AM

Nagaur

( hanuman beniwal public hearing ) इस दौरान लोगों ने पानी, बिजली सहित विभिन्न सार्वजनिक समस्याओं से अवगत करवाया। सांसद बेनीवाल ( hanuman beniwal ) को नागौर के बीआर मिर्धा कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने ज्ञापन सौपंकर गल्र्स एनसीसी विंग खुलवाने की मांग की।

नागौर.
नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ( hanuman beniwal ) ने शनिवार को अपने आवास पर जन सुनवाई की, जिसमें जिले भर से आए लोगों की भीड़ उमड़ी। ( hanuman beniwal public hearing ) इस दौरान लोगों ने पानी, बिजली सहित विभिन्न सार्वजनिक समस्याओं से अवगत करवाया। सांसद बेनीवाल को नागौर के बीआर मिर्धा कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने ज्ञापन सौपंकर गल्र्स एनसीसी विंग खुलवाने की मांग की।

इस कॉलेज की छात्राओं ने बताया कि आज एनसीसी का महत्व काफी बढ़ गया है, ऐसे में यदि छात्रा विंग स्वीकृत हो जाए तो कॉलेज की छात्राओं को फायदा मिल सकता है। उन्होंने बताया कि एक साल पहले तक कॉलेज में छात्रा विंग की 3 राज बटालियन स्वीकृत थी, लेकिन महिला प्रभारी नहीं होने के कारण कॉलेज से छीन ली। अब ऐसी व्याख्याता नियुक्त हो गई हैं, जो एनसीसी का प्रभार लेने को तैयार हैं।


इस दौरान सांसद ( nagaur news ) ने कहा कि संसद सत्र के बाद बाद वो जिले भर में लोगो के बीच गांवों में जाकर समस्याओं को सुनेंगे। साथ ही कहा कि जिस उद्देश्य से जनता ने उन्हें चुनकर लोकसभा में भेजा है उसे पूरा करने में वो कसर नहीं छोड़ेंगे और सदन में किसानों व जवानों की समस्याओं को पुरजोर तरीके से उठा रहे हैं।


युवाओं ने सौंपा ज्ञापन

सेना भर्ती पुराने नियमों के आधार आयोजित करवाने की मांग को लेकर रामकिशोर बेरा, राजेन्द्र जांगू, राकेश, महेन्द्र खोजा, मोहनराम, महेन्द्र विश्नोई, श्रवण चांगल, हरेन्द्र जागीड़ आदि युवाओं ने सांसद बेनीवाल को ज्ञापन सौंपा। युवाओं ने बताया कि सत्र 2019-20 में सेना भर्ती के नियमों में जो बदलाव किया गया है, उससे कई युवा सेना में जाने से वंचित रह गए। पुराने नियमों के अनुसार भर्ती प्रक्रिया 10वीं के अंक उच्च शिक्षा प्राप्त युवाओं के लिए लागू नहीं थे, जबकि इस बार 10वीं के 33 प्रतिशत अंक अनिवार्य कर दिए। युवाओं ने इस मुद्दे को रक्षा मंत्री तक पहुंचाने की मांग की है।

 

यह खबरें भी पढ़ें

जेडीए सर्किल पर होने वाले हादसों की होगी जांच, कमेटी गठित कर 10 दिन में सौंपी जाएगी रिपोर्ट

नाबालिग छात्रा के साथ दरिंदों ने किया सामूहिक बलात्कार, फोटो वायरल करने की दी धमकी

बिश्नोई समाज की उस महिला की फोटो हुई वायरल, जिसने अपने बच्चे की तरह कराया था मासूम हिरण को स्तनपान