स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उपचुनाव के बाद हनुमान बेनीवाल का सरकार पर आरोप, कहा- सरकारी मशीनरी का हुआ जमकर दुरुपयोग

Dinesh Saini

Publish: Oct 22, 2019 08:10 AM | Updated: Oct 22, 2019 08:13 AM

Nagaur

Rajasthan ByPolls 2019 : नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ( Hanuman Beniwal ) ने खींवसर उपचुनाव ( Rajasthan ByPolls 2019 ) में जिला प्रशासन पर सरकारी मशीनरी का जमकर दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है। सांसद ने कहा कि चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों की जमकर धज्जियां उड़ी...

नागौर। नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ( Hanuman Beniwal ) ने खींवसर उपचुनाव ( Rajasthan ByPolls 2019 ) में जिला प्रशासन पर सरकारी मशीनरी का जमकर दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है। सांसद ने कहा कि चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों की जमकर धज्जियां उड़ी। उन्होंने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार ने 10 से अधिक मंत्रियों और 50 से अधिक विधायकों को खींवसर में 15 दिनों तक कैम्प किया और जमकर धनबल का भी प्रयोग किया, मगर खींवसर की जनता के हौसलों के सामने कांग्रेस कहीं नजर नहीं आएगी। उन्होंने कहा खींवसर में भाजपा व रालोपा का गठबंधन भारी अन्तराल से चुनाव जीतेगा और जनता ने जिस तरह हर बार की तरह उनका साथ दिया इस बार भी साथ दिया।

जनता के इरादों के आगे सीएम का सपना होगा ध्वस्त
सांसद ने कहा कि अशोक गहलोत ने खींवसर को छावनी बना दिया और अधिकतर बूथों पर कांग्रेसी विचार धारा से जुड़े लोगों को पोलिंग पार्टी में भेजा और जिला कलेक्टर तथा जिला पुलिस अधीक्षक ने कांग्रेस के पक्ष में मतदान की अपील कई जगह की।


62.49 प्रतिशत हुआ मतदान
खींवसर विधानसभा में सोमवार को हुए उपचुनाव में मतदान का प्रतिशत काफी कम रहा है। निर्वाचन विभाग द्वारा शाम सात बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार खींवसर में 62.49 प्रतिशत मतदान हुआ। यह वर्ष 2018 में हुए विधानसभा चुनाव (75.58 प्रतिशत) की तुलना में करीब 13 प्रतिशत कम है। खींवसर में पुलिस और प्रशासन की ओर से की गई माकूल व्यवस्था के चलते शांतिपूर्ण तरीके से मतदान सम्पन्न हो गया। हालांकि सुबह-सुबह कुछ स्थानों पर वीवी पेट एवं बेलेट यूनिट व कंट्रोल यूनिट में गड़बड़ी आई, जिसे समय रहते ठीक कर लिया गया। दिनभर मतदान शांतिपूर्ण चला। अधिकांश मतदान केन्द्र क्रिटिकल होने के चलते भारी तादाद में पुलिस बल तैनात किया गया। मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं की सहायता को लेकर हर बूथ स्काउट गाइड, एक महिला कांस्टेबल व एक आंगनाबड़ी कार्यकर्ता को लगाया गया।