स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

डायरेक्टर व एजेन्ट को तीन-तीन साल की कैद, हर्जाना भी लगाया

Sandeep Pandey

Publish: Aug 23, 2019 12:55 PM | Updated: Aug 23, 2019 12:55 PM

Nagaur

विश्वामित्र इंण्डिया परिवार चिटफंड कम्पनी

एजेंट मुकेश ने मौलासर में खोला था कम्पनी का कार्यालय

मौलासर. अधिक ब्याज का प्रलोभन देकर लाखों रुपए निवेश कराने और कारोबार बंद कर भागने वाले विश्वामित्र इण्डिया परिवार के मालिक मनोजकुमार और मौलासर में कार्यालय संचालक मुकेश पुत्र मोटाराम को डीडवाना एसीजेएम कोर्ट ने दोषी ठहराया।

मौलासर. अधिक ब्याज का प्रलोभन देकर लाखों रुपए निवेश कराने और कारोबार बंद कर भागने वाले विश्वामित्र इण्डिया परिवार के मालिक मनोजकुमार और मौलासर में कार्यालय संचालक मुकेश पुत्र मोटाराम को डीडवाना एसीजेएम कोर्ट ने दोषी ठहराया। दोनों आरोपियों कोफैसला सुनाते हुए तीन-तीन साल की सजा व तीन-तीन हजार रुपए जुर्माना जमा कराने के आदेश दिए हैं।

अभियोजक किस्तुरचन्द चौधरी के अनुसार चिटफंड कम्पनी के डायरेक्टर मनोजकुमार और एजेंट मुकेश मेघवाल के खिलाफ चिटफंड कम्पनी के जरिए लोगों से धोखाधड़ी के मामले चल रहे थे। आरोपी मनोज के खिलाफ कुल चार व एजेन्ट मुकेश के खिलाफ तीन मामले थे। जिस पर गुरुवार को न्यायाधीश नारायण प्रसाद प्रजापत ने अपना फैसला सुनाया। फैसले में दोनों आरोपियों को दोषी माना है। एजेन्ट मुकेश पुत्र मोटाराम के खिलाफ धोखाधड़ी के अलग-अलग तीन मामलों में फैसला आया है।

गौरतलब है कि आरोपी मुकेश पुत्र मोटाराम ने मौलासर में कथित चिटफंड कम्पनी विश्वामित्र इण्डिया परिवार का एक कार्यालय खोला था। जिसमें मुख्य संचालनकर्ता मुकेश ही था। आरोपी मुकेश अधिक ब्याज का प्रलोभन देकर लोगों के लाखों रुपए चिटफंड कम्पनी में निवेश करा दिए। लोगों के लाखों रुपए डकारने के बाद आरोपी मुकेश कम्पनी के उक्त कार्यालय को बंद कर फरार हो गया था।
रुपए डूबने के बाद झाड़ोद के पूर्व सरपंच दशरथङ्क्षसह सहित एक दर्जन से अधिक लोगों ने आरोपी मुकेश के खिलाफ मौलासर थाने में मामले दर्ज करवाए थे।

आरोपी के खिलाफ एक मामला और दर्ज
आरोपी मुकेश के खिलाफ मौलासर थाने में गुरुवार को एक और मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के अनुसार मौलासर के सत्यनारायण कॉलोनी निवासी विजयुकमार पुत्र सीताराम शर्मा ने इस्तागसे से रुपए गबन करने का मामला दर्ज कराया।

खेजड़ी की टहनी गिरने से महिला मरी

डीडवाना. खेजड़ी की डाल टूटकर गिरने से एक महिला की मौत हो गई। हेड कांस्टेबल इकबाल खान ने बताया कि निकटवर्ती ग्राम खुड़ी-निम्बी निवासी रूकमणी (51) खेत में पशुओं को चारा खिला रही थी। इस दौरान वो एक खेजड़ी के नीचे सुस्ताने लगी। खेजड़ी की बड़ी टहनी टूटकर महिला के उपर गिर गई। उसे शहर के बांगड़ अस्पताल ले जाया गया, जहां पर चिकित्सकों ने जांच के बाद महिला को मृत घोषित कर दिया।