स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

डिस्कॉम के विरोध में धरना-प्रदर्शन शुरू

Sandeep Pandey

Publish: Jan 21, 2020 19:34 PM | Updated: Jan 21, 2020 19:34 PM

Nagaur

नावां शहर. राजस्थान नमक उत्पादक संघ की ओर से डिस्कॉम की ओर से गलत वसूली के खिलाफ अनिश्चित कालीन धरना देकर प्रदर्शन उपखण्ड कार्यालय रोड व डिस्कॉम के सामने नमक किसानों ने अपनी मांगों को लेकर मंगलवार को धरना शुरू कर दिया।

नावां शहर. राजस्थान नमक उत्पादक संघ की ओर से डिस्कॉम की ओर से गलत वसूली के खिलाफ अनिश्चित कालीन धरना देकर प्रदर्शन उपखण्ड कार्यालय रोड व डिस्कॉम के सामने नमक किसानों ने अपनी मांगों को लेकर मंगलवार को धरना शुरू कर दिया। नमक के व्यापारियों ने सुबह से ही तंबू लगाकर अपनी मांगे पूरी नहीं होने तक धरना जारी रखने का आग्रह किया है। नमक इकाइयों पर डिस्कॉम की कार्रवाई से नाराज व्यापारियों ने धरना देकर बताया कि आस-पास के नमक उत्पादन क्षेत्रों में डिस्कॉम अधिकारी नमक उत्पादन इकाइयों पर विद्युत भार से संबंधित गलत शीटें भरी गई है। जिस पर नाराजगी जताते हुए नमक उत्पादक संघ के पदाधिकारियों ने बताया कि किसी भी प्रकार की विद्युत चोरी नहीं कर रहे हैं निगम के स्थापित मीटर से बिजली का पुरा भुगतान कर रहे हैं। भारी-भरकम शीटों का भुगतान संभव नहीं है। पहले भी निगम के उच्च पदाधिकारियों के साथ बैठक कर यह तय किया गया था कि नमक उत्पादक अपनी इकाई में स्थापित सी.टी. मीटर से निकाली हुई यूनिट के आधार पर पूरा भुगतान करेंगे व उसके उपरांत कोई शीट नहीं भरी जाएगी। इसके साथ ही आरोप लगाया कि नमक उत्पादकों का स्वीकृत लोड बढ़ा दिया जाएगा लेकिन आवेदन करने के बाद भी लोड नहीं बढ़ाया गया। नमक उत्पादक संघ ने नाराजगी जताते हुए भरी गई शीट को निरस्त करने की मांग व भरी जा रही शीटों को अविलम्ब रुकवाने व इस गलत वसूली के खिलाफ अनिश्चितकालीन धरना देने की बात कही।

सीओ की निगरानी में जारी रहना धरना प्रदर्शननमक के किसानों का डिस्कॉम के सामने धरना शुरू होने के साथ ही कुचामन सीओ नगाराम चौधरी ने कानून व्यवस्था को मध्यनजर रखते हुए धरना प्रदर्शन स्थल का दौरा किया व नावां थानाधिकारी सतीश मीणा के साथ नावां पुलिस भी मौके पर मौजूद रही।

धरना प्रदर्शन जारी रहेगा

नमक उत्पादक संघ अध्यक्ष केशाराम लोरा ने बताया कि नमक के किसानों के साथ विभाग गलत रूप से वसूली की जा रही है। जिसके चलते नमक का किसान आर्थिक रूप से कमजोर होता नजर आ रहा है। इसके साथ ही नमक के किसानों की जब तक हमारी मांगे पूरी नही की जाती धरना जारी रहेगा। इस अवसर पर अजय अग्रवाल, मूलचन्द, राजकुमार पुरोहित, सुरेश बेरीवाल, अनिल गटानी, ललित चावड़ा, राजेश गौयल, सत्यनारायण, रामेश्वर रणवा, छीतरमल, बजरंग, आनन्द डाका, दिलीप जागीड़, मनोज पाटनी सहित नमक से जुड़े किसान मौजूद रहे।

[MORE_ADVERTISE1]