स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बाल मजदूरी एक अपराध

Ravindra Mishra

Publish: Sep 15, 2019 17:59 PM | Updated: Sep 15, 2019 17:59 PM

Nagaur

कुचेरा. शहर के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में अम्बुजा सीमेंट फाउण्डेशन मूण्डवा के बेहतर कपास उत्पादन कार्यक्रम के अन्तर्गत विद्यार्थियों को बाल मजदूरी-एक अपराध और बंधुआ मजदूरी पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजित किया गया।

कुचेरा.अम्बुजा सीमेंट फाउण्डेशन के गब्बरसिंह राठौड़ ने बताया कि 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों को पढाई, खेलकूद और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में अधिक ध्यान देना चाहिए। अपने आस पास के 6 से 14 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों को विद्यालय में पढऩे के लिए प्रेरित करें। और अपने माता पिता को कीटनाशकों का उपयोग करते समय सेफ्टी किट का प्रयोग करने के लिए आग्रह करें। इसके अलावा बेहतर कपास उत्पादन कार्यक्रम और बाल मजदूरी पर एक प्रश्नोतरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में सही जवाब देने वाले बच्चों को विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य कैलाशराम जेठू ने पुरुस्कृत किया। अम्बुजा सीमेंट फाउण्डेशन मूण्डवा के बीसीआई कार्यक्रम और अन्य सामाजिक कार्यों की सराहना की। इस मौके पर एसीएफ के कैलाश गौड़ और विद्यालय के वरिष्ठ अध्यापक वीरेन्द्र सिंवर, रामलाल गुर्जर, ओमप्रकाश बङोला, पुखराज भाटी, पुष्पा, जितेन्द्र सूंठवाल आदि ने विचार व्यक्त किए।

आपसी रंजिश को लेकर दो पक्षों में मारपीट

कुचेरा. पुलिस थाने में मारपीट के परस्पर मामले दर्ज कराए गए। पुलिस के अनुसार ग्वालू निवासी नथूराम पुत्र शिवलाल मेघवाल ने रिपोर्ट दी कि 12 सितम्बर को शाम सात से आठ बजे के बीच वह संतोषनाथ मेला मैदान में कार्यकर्ता के रूप में सेवा दे रहा था। इस दौरान रामकिशोर, सम्पत व तीन अन्य व्यक्तियों ने पुरानी रंजिश को लेकर उसके साथ मारपीट की। उसके साथियों दिनेशराम, गरीबराम, श्रवण व अन्य ने उसे छुड़ाया। रात दो बजे के करीब वह साथियों के साथ घर जा रहा था। इस दौरान रामकिशोर, सम्पत व अन्य लोग बोलेरो में सवार होकर आए और उन पर लाठियों व सरियों से हमला किया। इससे उसके साथी दिनेश व श्रवण के चोटें आई। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। इसी थाने में ग्वालू निवासी रामकिशोर पुत्र बिजाराम मेघवाल ने रिपोर्ट दी कि वह गुरुवार शाम को साढे सात बजे संतोष नाथ मेला मैदान में खड़ा था। इस दौरान गांव का निवासी श्रवणराम पुत्र मोहनराम जाट, दिनेश पुत्र नेनाराम व गरीबराम पुत्र नेनाराम जाट व नथूराम पुत्र शिवलाल मेघवाल आए और उसके साथ गाली गलौच की। वह पास खड़ी गाड़ी में बैठकर जान बचाकर अपने नलकूप पर चला गया, लेकिन चारों पीछा करते हुए नलकूप पर आए और हॉकियों,पत्थरों व परछी से हमला किया। उसकी सोने की चैन व तीस हजार रुपए चुराकर ले गए। शांति भंग में गिरफ्तर रामकिशोर, सम्पत व चेनाराम तथा दूसरे पक्ष से एबीवीपी के जिला संयोजक दिनेश बेड़ा पुत्र नैनाराम, श्रवणराम पुत्र मोहनराम, नथूराम पुत्र शिवलाल को पुलिस ने शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।