स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रिश्वत लेने वाले उप अभियंता समेत 3 आरोपी भेजे गए जेल

Murari Soni

Publish: Aug 31, 2019 10:55 AM | Updated: Aug 31, 2019 10:55 AM

Mungeli

जांच पूरी होने बाद एन्टी करप्शन टीम ने शाम 7 बजे आरोपियो को हिरासत में लेकर बिलासपुर कार्यालय ले गई।

पथरिया. पथरिया नगर पंचायत पथरिया में गुरुवार को एन्टी करप्शन ब्यूरो ने छापा मारकर नगर पंचायत के उप अभियंता सत्यप्रकाश मधुकर को 10000 रुपए रिश्वत लेते हुए पकड़ा था। जांच पूरी होने बाद एन्टी करप्शन टीम ने शाम 7 बजे आरोपियो को हिरासत में लेकर बिलासपुर कार्यालय ले गई। इसके बाद शुक्रवार की सुबह कोर्ट में आरोपियों को पेश करने के बाद केंद्रीय जेल मुंगेली भेजा गया।
गौरतलब है कि नगर पंचायत पथरिया के उप अभियंता सत्यप्रकाश मधुकर ने आवास हितग्राही जितेंद्र यादव से रुपए की मांग की । जितेंद्र यादव का स्वास्थ्य खराब होने के कारण उसके पुत्र सन्नी यादव ने कार्यालय जाकर उप अभियंता से बात की। उप अभियंता द्वारा 10 हजार रुपए की मांग की। इससे हताश और परेशान हितग्राही के पुत्र सन्नी यादव ने एन्टी करप्शन ब्यूरो कार्यालय में संपर्क किया। फिर गुरुवार को एन्टी करप्शन टीम ने केमिकल युक्त नोट सन्नी यादव को देकर संबंधित अधिकारी को देने के लिए भेजा। प्रार्थी ने भी उप अभियंता को मांगी गई रकम देने की बात कही। उप अभियंता ने चालाकी दिखाते हुए रकम लेने के लिए उसे तहसील कार्यालय बुलाया और अपने आवास सहकर्मी सुनील को पैसे लेने के लिए भेजा। सुनील ने पैसे लेकर उप अभियंता के ड्राइवर अशोक को दिया। फिर अशोक ने उक्त रकम को ले जाकर उप अभियंता मधुकर के हाथ में दिया। इसके बाद प्रार्थी ने एसीबी के अधिकारी आदित्य हीराधर को रकम सौंप देने की जानकारी दी। इस पर एसीबी टीम सक्रिय हुई और तहसील कार्यालय पथरिया से आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के खिलाफ 7 पीसी एक्ट 2018 और आईपीसी 34 के तहत अपराध दर्ज करते हुए कार्रवाई की गई है। वहीं शुक्रवार को भी टीम ने मौके पर पहुंचकर पटवारी के सहयोग नक्शा तैयार कर अन्य औपचारिकताएं की पूरी की।