स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नरवा, गरुवा, घुरुवा एवं बाड़ी योजना का प्रभावी क्रियान्वयन हो- डॉ. भुरे

Murari Soni

Publish: Jul 20, 2019 11:31 AM | Updated: Jul 20, 2019 11:31 AM

Mungeli

हरेली के दिन मुंगेली जिले में 50 गौठानों का होगा लोकार्पण

मुंगेली. छत्तीसगढ़ के चार चिन्हारी नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बाड़ी को बचाकर छत्तीसगढ़ की ग्रामीण अर्थव्यवस्था में नये जीवन का संचार करने के लिए सुराजी गांव योजना संचालित किया जा रहा है। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने शुक्रवार को जिला पंचायत मुंगेली के सभाकक्ष में जिले की 72 ग्राम पंचायतों के सरपंच-सचिवों की बैठक लेकर नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बाड़ी योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि योजना का प्रभावी क्रियान्वयन होना चाहिए। गौठानों का निर्माण कार्य तेजी से
पूरा करें।
मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा ने अवगत कराया कि नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बाड़ी ग्रामीण आजीविका संसाधन को पुर्नजीवित किये जाने से परिकल्पित है। उन्होंने कहा कि सुराजी गांव योजना में समयबद्ध कार्यक्रम के अनुसार गौठान निर्माण, गौठानों का संचालन, विभिन्न घटकों जैसे पशु विश्राम हेतु प्लेटफार्म (चबूतरा), सीपीटी, तार फेंसिंग, कम्पोस्ट पिट, वर्मी कम्पोस्ट, पशु शेड को नक्शा में सम्मिलित किया गया है। उन्होंने कहा कि गौठान में कच्ची नाली और प्राथमिक स्वास्थ्य सेंटर का शेड होना चाहिए। पूरे छत्तीसगढ़ में दो हजार गौठान 01 अगस्त 2019 तक बनकर तैयार हो जायेगा। श्री शर्मा ने महिला सरपंच-सचिवों से कहा कि महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं से आचार, पापड़, बड़ी-बिजौरी बनाने हेतु प्रेरित करें। उन्होने सरपंच-सचिवों का गौठान निर्माण के संबंध में मार्गदर्शन भी किया। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लोकेश चंद्राकर ने बताया कि जिले में हरेली के दिन 50 गौठानों का लोकार्पण होगा। वर्तमान में 25 गौठानों का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है। शेष गौठानों में निर्माण कार्य तेजी से चल रही है। बैठक में जिला पंचायत के परियोजना अधिकारी रिमन सिंह, मुंगेली जनपद पंचायत सीईओ आरएस नायक, पथरिया जनपद पंचायत सीईओ कुमार सिंह, उपसंचालक कृषि डीके ब्यौहार, पशु संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. मरकाम सहित सरपंच-सचिव उपस्थित थे।