स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

छोटे छोटे बच्चों को लेकर जान बचाकर भागी महिला, चौराहे पर अचानक हो गई बेहोश, मां के पास बैठे बच्चे बिलख रहे थे और...

Murari Soni

Publish: Aug 09, 2019 11:30 AM | Updated: Aug 09, 2019 11:30 AM

Mungeli

Husband-wife: पति ने मारपीट की और जिंदा जलाने का किया प्रयास

मुंगेली पत्रिका. नागरिकों की मानवीय संवेदना तथा सूझबूझ व मुंगेली पुलिस (मुंगेली पुलिस )की त्वरित कार्रवाई से न केवल महिला की जिंदगी बची बल्कि बच्चे अनाथ होने से बच गये(Husband-wife)। मिली जानकारी के अनुसार मुंगेली के सिल्ली निवासी जनपद सदस्य की पत्नी सुबह मुंगेली में विवेकानन्द वार्ड के मुख्य मार्ग पर अचेत अवस्था में पड़ी (Husband-wife)थी।

साथ में दो बच्चे मां के पास बैठ कर रो रहे थे। स्थानीय लोगों ने महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराकर पीडि़ता के पिता को फोन कर सूचना दी। सिटी कोतवाली प्रभारी आशीष आरोरा को उक्त घटना की जानकारी मिलते ही जिला अस्पताल पहुंच कर पीडि़ता से बयान के आधार पर सिटी कोतवाली ने पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर आरोपी पति के खिलाफ शून्य में मामला दर्ज(Husband-wife)किया गया।

पुलिस के अनुसार ग्राम सिल्ली निवासी पीडि़ता श्वेता पति पालन दास गेंदले उम्र 26 वर्ष पति जो वर्तमान में जनपद सदस्य है, ने 7 अगस्त को सुबह अपनी पत्नी श्वेता से विवाद कर मारपीट करते हुए जिन्दा जलाने के उद्देश्य से मिट्टी तेल डालकर मारने का प्रयास किया। पति मिटटी तेल छिडक़ने के बाद माचिस लाने घर के अंदर जाने पर महिला दो बच्चों को लेकर भागते हुए सडक़ में आ गयी तथा मुंगेली जा रही बस में बैठ कर दोनों बच्चों के मुंगेली पहुंच गई। पड़ाव चौंक से बस उतर कर सिटी कोतवाली मार्ग पर विवेकानन्द वार्ड में सडक़ किनारे अचेत होकर गिर गई। दोनों बच्चें अपनी मां के पास रोते बिलखते रहे। पीडि़ता ने पुलिस को पूरी कहानी (Husband-wife)सुनाई।