स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अंकसूची की फोटो कॉपी जलाकर किया प्रदर्शन

Murari Soni

Publish: Sep 06, 2019 20:49 PM | Updated: Sep 06, 2019 20:49 PM

Mungeli

प्रदर्शन: बढ़ाए गए आरक्षण से सवर्ण समाज में आक्रोश

लोरमी. नगर के सवर्ण समाजों के लोगों ने गुरुवार को प्रदेश सरकार के द्वारा बढ़ाये गये आरक्षण के विरोध में प्रदर्शन किया। समाज के युवाओं ने अंकसूची की छायाप्रति को जलाते हुए कहा कि जहां मेहनत कर डिग्री हासिल तो कर लिया जाता है, लेकिन आरक्षण की मार झेलते हुए हमें नौकरी व उच्च शिक्षा से वंचित होना पड़ जाता है तो फिर ऐसी डिग्रिीयों का क्या काम। वहीं चेतावनी दी गई कि यदि जल्द बढ़ाये गये आरक्षण को वापस नहीं लिया जाता है तो डिग्रियों की मूलप्रति को जलाया जायेगा, जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी।
गौरतलब है प्रदेश सरकार के द्वारा आरक्षण को बढ़ाकर 72 प्रतिशत कर दिया गया है। वहीं अभी और उसमें संशोधन करते हुए 82 प्रतिशत आरक्षण कर दिया गया, जिसका विरोध करते हुए नगर के सवर्ण समाज ने बढ़ाये गये आरक्षण के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। वहीं समाज के युवा वर्ग ने मार्कशीट की फोटोकापी को जलाते हुए सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया एवं जल्द ही सुप्रीम कोर्ट के गाइड लाइन के अनुसार आरक्षण को यथावत रखते हुए 50 प्रतिशत रखने की मांग की। साथ ही यह भी मांग किया गया कि आरक्षण को खत्म किया जाना चाहिए और आरक्षण सिर्फ आर्थिक स्थिति के आधार पर लोगों को मिलना चाहिए। सवर्ण समाज के लोगों ने कहा कि अगर आगे जल्द ही इस पर पुनर्विचार नहीं किया जाता है तो मेहनत से प्राप्त अंकसूची का क्या मतलब, जिसमें हमारी योग्यता के आधार पर न उच्च शिक्षा और न ही नौकरी मिल पाती है। हमारे द्वारा अंकसूची की मूलप्रति को जलाया जायेगा। इससे हमारे पुरे परिवार, समाज को होने वाले नुकसान की जवाबादारी सरकार की होगी।