स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भंग समितियों को बहाल करने व खुडिय़ा में धान खरीदी उपकेन्द्र खोलने की मांग

Murari Soni

Publish: Sep 06, 2019 20:46 PM | Updated: Sep 06, 2019 20:46 PM

Mungeli

विभिन्न समस्याओं को लेकर कांग्रेसियों ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

लोरमी. विकासखण्ड लोरमी की भंग समितियों को बहाल करने व ग्राम खुडिय़ा में खरीदी उपकेन्द्र खोलने सहित विभिन्न समस्याओं को लेकर कांग्रेसियों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है।
कलेक्टर को सौंपे गऐ ज्ञापन में बताया गया है कि शासन के आदेशानुसार लोरमी विकासखण्ड के अंतिम गांव कोसमतरा को 70 किमी दूर गुरूवाईनडबरी में संलग्न कर दिया गया है। वहीं नवागांव दयाली को वेकट नवागांव कर दिया गया है। साथ ही लोरमी सेवा सहकारी समिति व तुलसाघाट को नवाडीह समिति में अटैच कर दिया गया है। झझपुरीकलॉ, सरईपतेरा के किसान लोरमी समिति में धान बेचने आते थे लेकिन उसे भी डोंगरिया कर दिया गया हैै। पैजनिया को भी सिघनपुरी में संलग्न कर दिया गया है। अगर समिति को भंग नहीं किया गया तो क्षेत्र के किसानों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। हमारी सरकार किसानो की सरकार है। भंग की गई समिति को तत्काल सुधारा जायेगा। वहीं ग्राम खुडिय़ा में हर हाल में धान खरीदी उपकेन्द्र खोलने की मांग की गई है। इसके अलावा खुडिय़ा, डिण्डौरी, लगरा सहित वनग्राम के आसपास आधार कार्ड सेंटर व च्वॉइस सेंटर खोलने की मां गई है। इसके अलावा ग्राम लगरा, खपरीकलॉ और कोसमतरा के ग्रामीणों को 8 माह पेंशन नहीं मिलने, खुडिय़ा व दरवाजा क्षेत्र मवेशियों की तस्करी व पैसे लेकर सहायक पंजीयक के द्वारा दो कर्मचारी की नियुक्ति करने आदि की शिकायत की गई है। ज्ञापन सौंपने वालों में महिला कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष मायारानी सिंह, ब्लॉक अध्यक्ष लखन कश्यप, रामशरण खाण्डे, सागर सिंह, विद्यानंद चन्द्राकर, नरोत्तम, जाकिर, संतोष, घनाराम, प्रकाश, राजू, बलराम, कौशल, रामू, रामनिहोरा, पुरूषाोत्तम, अलख, चेनत व भोला आदि कांग्रेसी शामिल रहे।
भाजपाइयों ने भी कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन:
इधर भाजपा नेता व किसानों ने कलेक्टर मुंगेली को ज्ञापन सौंपते हुए लोरमी समिति में ही झझपुरीकलॉ व सरईपतेरा को यथावत रखने की मांग की है।