स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Video News: 701 किमी लंबा सफर सिर्फ 7 घंटे में, नागपुर-मुंबई सुपर एक्सप्रेस वे?

Rohit Kumar Tiwari

Publish: Sep 22, 2019 13:13 PM | Updated: Sep 22, 2019 15:13 PM

Mumbai

नागपुर-मुंबई समृद्धि राजमार्ग ( Nagpur-Mumbai Samruddhi Highway ) का काम 20 प्रतिशत पूरा, 701 किमी लंबे मार्ग ( 701 km long route ) से जुड़ेंगे दर्जनों गांव, 2022 तक तैयार होगा सुपर एक्सप्रेस हाइवे ( Super Express Highway ), 20 कृषि समृद्धि केंद्र भी होंगे स्थापित, युवाओं को रोजगार ( Employment ) मिलेगा और उन क्षेत्रों में आत्महत्या ( Suicide ) को रोकने में मदद मिलेगी

मुंबई. लोक निर्माण मंत्री एकनाथ शिंदे ने घोषणा की है कि नागपुर-मुंबई समृद्धि राजमार्ग का निर्माण कार्य बहुत तेज गति से चल रहा है और वर्तमान में 18-20 प्रतिशत काम पूरा भी हो गया है। वहीं मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की महत्वाकांक्षी परियोजना सुपर एक्सप्रेस हाईवे को 2022 तक पूरा करने का अनुमान है। साथ ही 20 कृषि समृद्धि केंद्र समृद्धि मार्ग के तहत स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मराठवाड़ा क्षेत्र में युवाओं को रोजगार मिलेगा और उन क्षेत्रों में आत्महत्या को रोकने में मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने घोषणा के बाद से नागपुर और मुंबई राजमार्गों के बीच यातायात प्रवाह को सुविधाजनक बनाने के लिए भूमि अधिग्रहण बहुत तेजी से किया गया। वर्तमान में यह काम नागपुर की दिशा में शुरू हो गया है और 20 प्रतिशत काम वास्तव में पूरा हो चुका है।

Mumbai News: अब तेजी से शुरू होगा मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग का निर्माण कार्य, आखिर एक्सप्रेसवे के लिए क्यों नहीं मिल रहा था कर्ज?

अब तेजी से शुरू होगा मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग का निर्माण कार्य, आखिर एक्सप्रेसवे के लिए क्यों नहीं मिल रहा था कर्ज?

लाखों लोगों को मिलेगा रोजगार...
विदित हो कि कुल 701 किमी लंबे मार्ग से जहां 10 जिले सीधे तौर पर जुड़ेंगे, वहीं 14 जिले अप्रत्यक्ष रूप से इस मार्ग से जुड़े होंगे। इस मार्ग पर 392 गांव हैं और इस क्षेत्र में सड़क के किनारे 20 कृषि समृद्धि केंद्र स्थापित किए जाएंगे। इस कृषि समृद्धि केंद्र के माध्यम से उस क्षेत्र के लोगों को भी रोजगार मिलेगा। लॉजिस्टिक हब, हॉस्पिटैलिटी, फड प्रोसेसिंग, कृषि से जुड़े उद्योग सभी इस समृद्धि केंद्र में होंगे, ताकि इस क्षेत्र के किसानों को इसका फायदा मिल सके। लाखों लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होगा।

वन्य जीवों के लिए MSRDC ने उठाए विशेष कदम...

9 July को मुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर दो घंटे का ब्लॉक

भविष्य में उद्यमी आएंगे आगे...
उल्लेखनीय है कि मुंबई से नागपुर तक यात्रा करने में लगभग 15 घंटे लगते हैं, जिसके चलते मराठवाड़ा, विदर्भ और उत्तर महाराष्ट्र के क्षेत्र में उद्यमी व्यवसाय शुरू करने से इनकार करते हैं। हालांकि, समृद्धि मार्ग के कारण समान दूरी केवल 7-8 घंटे की हो जाएगी, इसलिए भविष्य में उद्यमी भी आगे आएंगे। सार्वजनिक निर्माण मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि इसलिए यह क्षेत्र समृद्ध होगा और यहां के लोगों को फायदा होगा। इसमें कोई संदेह नहीं है कि इस क्षेत्र में कृषि क्षेत्र की शुरुआत की जाएगी और कृषि क्षेत्र के लिए एक अच्छा बाजार होगा।

पीएम 18 को करेंगे मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग का भूमिपूजन

मुंबई-नागपुर महामार्ग के विकास से जुड़ी बाधाएं दूर,जनवरी में पीएम मोदी के हाथों हो सकता है भूमि पूजन