स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अब Mill workers की खुलेगी किस्मत, इस महीने मिलेंगे घर ?

Rohit Kumar Tiwari

Publish: Nov 16, 2019 14:58 PM | Updated: Nov 16, 2019 14:58 PM

Mumbai

मिल मजदूरों ( Mill Workers ) के लिए निकलेगी लॉटरी ( Lottery ), औपचारिकताएं पूरी ( Formalities Complete ) होने के बाद लॉटरी का रास्ता खुला ( Way Open ), लॉटरी के बाद म्हाडा ( Mhada ) मिल कर्मचारियों की होगी जांच, सीईओ ( CEO ) ने कहा कि दिसंबर ( December ) में ही निकलेगी लॉटरी

मुंबई. बहुप्रतीक्षित म्हाडा मिल मजदूरों के लिए दिसंबर में लगभग 4 हजार घरों की लॉटरी निकाली जाएगी। एक बार लॉटरी के लिए औपचारिकताएं पूरी हो जाने के बाद लॉटरी निकालने का रास्ता खुला रहेगा। म्हाडा वर्तमान में उच्च न्यायालय की ओर से नियुक्त उच्चाधिकार समिति के सुझावों को निपटाने के लिए कार्रवाई कर रहा है। वहीं म्हाडा के सीईओ बी. राधाकृष्णन ने कहा कि लॉटरी दिसंबर में ही निकाली जाएगी। मिल मजदूरों की लॉटरी के लिए म्हाडा प्रशासन ने उच्चाधिकारी समिति से कुछ शर्तों में बदलाव का अनुरोध किया था। वहीं उच्च समिति ने स्पष्ट कर दिया था कि म्हाडा उपाध्यक्ष की विशेष समिति को इन परिवर्तनों के लिए मंजूरी मिल जाएगी। दरअसल, म्हाडा प्रशासन ने मांग की थी कि लॉटरी के बाद म्हाडा मिल कर्मचारियों की जांच की जाए। बड़ी संख्या में आवेदकों को देखने के बाद प्रशासन की ओर से ऐसा अनुरोध किया गया था। अब इस मांग को उच्च समिति की मंजूरी के बाद लॉटरी निकालने का रास्ता खुल जाएगा।

म्हाडा की है मिल मजदूरों को घर दिलाने की जिम्मेदारी

मिल कर्मचारियों के लिए म्हाडा जल्द करेगी 5090 घरों की घोषणा

[MORE_ADVERTISE1]अब Mill workers की खुलेगी किस्मत, इस महीने मिलेंगे घर ?[MORE_ADVERTISE2]

लॉटरी के बाद ही सत्यापन...
विदित हो कि मिल मजदूरों और लाभार्थियों के वारिसों ने लॉटरी तक पहुंचने के लिए विभिन्न माध्यमों से म्हाडा से संपर्क किया गया है। इसलिए म्हाडा प्रशासन चाहता है कि अधिक से अधिक लोग इस लॉटरी प्रक्रिया में भाग लें, जबकि कुछ मिल मजदूर संघों ने मांग की थी कि मिल मजदूरों की लॉटरी के लिए सत्यापन की प्रक्रिया पहले से की जाए। वहीं श्रमिक संघों का कहना है कि फर्जी लाभार्थी भी भाग लेंगे, लेकिन म्हाडा प्रशासन ने लॉटरी के बाद ही सत्यापन प्रक्रिया करने का फैसला किया है।

मिल कर्मचारियों को घर देने के प्रस्ताव को अंतिम रूप

वर्षों से MHADA प्राधिकरण से सैकड़ों लोग लगाए बैठे थे आस

[MORE_ADVERTISE3]

आईटी नव सॉफ्टवेयर में किया परिवर्तन...
म्हाडा मिल श्रमिकों की लॉटरी के लिए अब म्हाडा के सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से सॉफ्टवेयर में परिवर्तन किए जा रहे हैं। वर्तमान में आईटी विभाग की ओर से मिल कर्मचारियों की लॉटरी के लिए सॉफ्टवेयर की कोडिंग की जा रही है। इसलिए इसे पूरा करने में अभी कुछ दिन और लगेंगे। इस प्रक्रिया में आमतौर पर 15 दिन लगने की उम्मीद है।

Decision : पवई और विरार में बनेंगे 950 नए घर

अब नहीं बेच सकेंगे म्हाडा के घर, कार्रवाई कर रहा विजिलेंस डिपार्टमेंट