स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

mumbai news live: नशे की लत को पूरा करने के लिए करते थे आलू और प्याज की चोरी

Subhash Giri

Publish: Nov 17, 2019 20:02 PM | Updated: Nov 17, 2019 20:02 PM

Mumbai

बेमौसम बारिश से राज्य में आलू और प्याज की खेती नष्ट हो गई है। इससे राज्य के किसानों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा है। दूसरी तरफ राज्य में प्याज की किमत आसमान छूए हुए है। यह कहना गलत नहीं होगा कि प्याज ने लोगों को रुला दिया है।

ठाणे. वर्तमान समय में महंगाई की मार झेल रहे चोर अब किमती सामानों को चुराने की बजाय प्याज और आलू की चोरी करने लगे हैं। चोर प्याज और आलू को बेचकर अपनी जरूरतों को पूरा कर रहे है। इसी क्रम में ठाणे सब्जी मार्केट में प्याज और आलू की चोरी किए जाने के मामले ठाणे नगर पुलिस थाने में दर्ज हो रहे थे। चोरी के इन मामलों को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने गस्त को बढ़ा दिया था। गस्ती के दौरान पुलिस ने 60 किलों प्याज की बोरी के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
दोनों शातिर चोर हैं
पुलिस के मुताबिक दोनों चोर अपनी नशे की लत को पूरा करने के लिए प्याज और आलू की चोरी किया करते थे। शहर में मोबाइल, चेन स्नेचिंग और जेबकतरी जैसे मामलों को पुलिस थानों में दर्ज हो रहे हैं। इसी में नागरिकों की आंखों में आसू लाने वाले प्याज और आलू की चोरी किए जाने के मामले सामने आने के बाद पुलिस भौंचक्की रह गई। ठाणे नगर पुलिस थाने में करीब-करीब प्रतिदिन ही ठाणे सब्जी मार्केट के व्यापारी मौखिक शिकायत लेकर पहुंचने लगे थे। बीते कुछ दिनों में इस तरह के मामले और बढ़ गए थे। इसे गंभीरता से लेते हुए ठाणे नगर पुलिस थाने की एक टीम ने गस्त बढ़ाते हुए चोरों पर निगरानी तेज कर दी थी। इसी बीच शुक्रवार की रात ठाणे सब्जी बाजार में प्याज की 60 किलों की बोरी चुराकर ले जाते हुए कलवा के महात्मा फुले नगर निवासी अविनाश कदम (30) और अशोक पवार (31) को रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि बाजार में प्याज की कुल किमत चार हजार 800 रुपए बताई गई है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए ठाणे जिला व सत्र न्यायालय में पेश किया, जहां से दोनों को पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस के मुताबिक दोनों शातिर चोर हैं और अपने नशे की लत को पूरा करने के लिए चोरी के इस वारदात को अंजाम दे रहे थे।

[MORE_ADVERTISE1]