स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मेट्रो कारशेड के लिए अभिनेता दान करें अपना बंगला

Nagmani Pandey

Publish: Sep 21, 2019 22:08 PM | Updated: Sep 21, 2019 22:08 PM

Mumbai

मेट्रो कारशेड के लिए अभिनेता दान करें अपना बंगला
मुंबई मेट्रो निर्माण विवाद में बंटा बॉलीवुड
किसी ने किया समर्थन तो कोई कर रहा विरोध


नागमणि पांडेय

मुंबई. गोरेगांव के आरे कॉलोनी में मेट्रो शेड बनाने के लिए करीब 2700 पेड़ काटे जाने के फैसले पर बॉम्बे हाइकोर्ट ने रोक लगा दी है। यह रोक 30 सितंबर को मामले की अगली सुनवाई तक लगाई गई है। वहीं इस मुद्दे पर राजनीति गरमाने के साथ ही बॉलीवुड और साहित्य भी बंट गया है। अभिनेता अमिताभ बच्चन द्वारा ट्वीट कर मेट्रो निर्माण का समर्थन दर्शाए जाने के बाद शुक्रवार को लेखक देवदत्त पटनायक ने आरे बचाओ आंदोलन का समर्थन करते हुए मेट्रो कार शेड के लिए अभिनेताओं को अपना बंगला दान करने का ट्वीट किया है।

मंगलवार को अभिनेता अमिताभ बच्चन ने भी इस मामले पर एक ट्वीट किया था। इस पोस्ट के जरिए उन्होंने मेट्रो निर्माण का समर्थन किया था, जिसके बाद उन्हें आलोचकों का सामना करना पड़ा। अमिताभ के इस ट्वीट के बाद सभी उनकी निंदा करने लगे थे। इसके बाद ही अभिनेता अक्षय कुमार ने भी मेट्रो का सफर कर मुंबई करो को संदेश देने की कोशिश की थी की मेट्रो मुंबई के लिए फायदेमंद है। इसके बाद शुक्रवार को सिद्ध लेखक देवदत्त पटनायक ने एक ट्वीट करते हुए आरे में पेड़ो की बली चढ़ाकर मेट्रो कार शेड निर्माण का समर्थन करने वाले अभिनेताओं को अपना बंगला कार शेड के लिए डोनेट कर देना चाहिए। इस ट्वीट के बाद देवदत्त पटनायक के समर्थन करते हुए लोगो ने लिखा है कि पेड़ो की बली नहीं जानी चाहिए।
श्रद्धा कपूर ने भी किया विरोध
एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर ने भी इसका विरोध करते हुए एक पोस्ट शेयर किया। श्रद्धा ने अपने पोस्ट में पेड़ काटकर मेट्रो निर्माण पर अपनी आवाज उठाई और आरे के जंगलों को बचाने की अपील की। साथ ही स्वरा भास्कर ने भी पेड़ों को काटने के खिलाफ आवाज बुलंद की है। इससे पहले बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार ने भी आरे के जंगल को बचाने के लिए अपील की थी, उन्होंने एक वीडियो शेयर कर इश मामले में अपनी राय रखी। वहीं एक्ट्रेस दिया मिर्जा ने भी पर्यावरण को बचाने के लिए अपनी आवाज उठाई और मेट्रो निर्माण की वजह से आरे जंगल को काटने के खिलाफ एक पोस्ट शेयर किया था।
पर्यावरण प्रेमियों की मांग आरे के जंगल को बचाना
गोरेगांव के आरे कॉलोनी में मेट्रो-3 के लिए बनने वाले कारशेड के लिए 2700 पेड़ों को काटे जाने वाले है। इसके के लिए मुंबई मनपा के ट्री अथॉरिटी ने पेड़ो को काटने के लिए मंजूरी दे दी है। इस के खिलाफ खुद बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना मैदान में उतर आई है। शिवसेना भी बीएमसी ट्री अथॉरिटी के फैसले के खिलाफ विपक्ष में शामिल हो गई है। इससे सरकार के लिए असहज पैदा करने वाली स्थिति बन गयी है। आरे में मेट्रो कार शेड का विरोध करने वाले कार्यकर्ताओं की मांग है कि मेट्रो अधिकारी मेट्रो कार शेड 3 लोकेशन को आरे के जंगल से बदल कर कंजुरमार्ग ले जाए। वहीं दूसरी तरफ एमएमआरसी के एमडी भी कार्यकर्ताओं और पर्यावरण प्रेमियों की आलोचला झेल रहे हैं। साथ ही उनका कहना है कि अगर मेट्रो 3 को आरे के जंगल इलाके से कहीं और ले जाया गया तो ये प्रोजेक्ट सफल नहीं हो पाएगा।