स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

MSEB बिजली विभाग ने युवक का जीवन किया बर्बाद

Nagmani Pandey

Publish: Sep 22, 2019 02:21 AM | Updated: Sep 22, 2019 02:28 AM

Mumbai

बिजली विभाग ने युवक का जीवन किया बर्बाद

MSEB लापरवाही से युवक हाईवोल्टेज करेंट से झुलसा
NMMC HOSPITAL ज़िंदगी मौत से लड़ने को मजबूर युवक

लापरवाह अधिकारियो को बचाने में जुटी प्रशासन

 

नागमणि पांडेय
मुंबई ।आए दिन बिजली विभाग की लापरवाही से होने वाली घटनाएं सामने आ रही है| कहीं खंभे उखड़कर गिरने से तो कही जर्जर तार के टूटने से चपेट में आने पर लोगों की मौतें हो जाना आम हो गया है| ऐसी ही एक घटना नवी मुंबई के कोपरखेरने सेक्टर 5 में घटित हुई| एमएसईबी कर्मचारियों द्वारा शुक्रवार को सड़क खोदने के साथ ही तार खुला छोड़ दिया गया था ।शनिवार सुबह कॉलेज जाते समय 20 वर्षीय युवक इस तार के चपेट में आते ही झुलस गया ।जिसके बाद उसे वाशी के मनपा अस्पताल में भर्ती किया गया है ।

जानकारी अनुसार नवी मुंबई कोपरखेरने सेक्टर 5 में रहने वाला 20 वर्षीय शुभम जगदीश सोनी शनिवार सुबह साढ़े 7 बजे कॉलेज जा रहा था ।तभी सेक्टर 5 के अण्णा साहेब गार्डन के पास सड़क किनारे एमएसईबी द्वारा खोलकर छोड़े गए वायर के चपेट में आगया । एमएसईबी के इस हाईवोल्टेज तार के संपर्क में आते ही शुभम का पैर झुलसने के साथ ही जोर से विस्फ़ोट हुआ जिसमें शुभम का चेहरा भी पूरी तरह झुलस गया । जिसके बाद स्थानीय नागरिकों ने उसे तुरंत वाशी के मनपा अस्पताल में भर्ती कराया ।


बिजली विभाग की लापरवाही का खामियाजा भुगता युवक

MSEB बिजली विभाग ने युवक का जीवन किया बर्बाद

शुभम के भाई जगदीश का आरोप है कि कई दिनों से वायर खुला छोड़ा गया था इसको गंभीरता से लेते हुय नागरिको ने कई बार एमएसईबी में शिकायत की, लेकिन कोई सुधार न होने के चलते ही शुभम शनिवार को बिजली के तार के चपेट में आने के बाद झुलस गया । स्थानीय लोगो ने तुरंत किसी तरह शुभम को बिजली के तार से अलग कर आग बुझाए और अस्पताल में भर्ती कराए |


सूचना के बावजूद घंटो नदारद रहे एमएसईबी अधिकारी

MSEB बिजली विभाग ने युवक का जीवन किया बर्बाद

घटना के बाद नागरिको में हाहाकार मच गया| नागरिको ने बिजली विभाग को सूचना दी, लेकिन घंटो कोई विभागीय अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा| जगदीश ने बताया कि इस संदर्भ में कोपरखेरने पुलिस स्टेशन में शिकायत दिया गया है ।लेकिन पुलिस ने शिकायत की कॉपी अभी तक नही दिया है अधिकारी का नही होने का बहाना बताकर रविवार को कॉपी देने को कहा है ।बताया जा रहा है की पुलिस अधिकारी भी मामले को दबाने में जुटे है ।इस संदर्भ में कोपरखैरणे एमएसईबी में संपर्क किया गया | लेकिन कोई जवाब नहीं मिला | बताया जा रहा है की एमएसईबी के जिन लापरवाह अधिकारियो और कर्मचारियों के कारण यह दुर्घटना घटी है उन्हें बचाने की कोशिस की जा रही है |