स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

maha politics: ठाकरे सरकार में मंत्रिमंडल का विस्तार लटका

Ramdinesh Yadav

Publish: Dec 05, 2019 15:12 PM | Updated: Dec 05, 2019 15:14 PM

Mumbai

  • विधानमंडल के शीतकालीन( winter session) सत्र के बाद होगा मंत्रिमंडल (cabinet minstry) का विस्तार
  • एनसीपी और कांग्रेस( ncp-congress) के नेताओं बैठक (meeting) हुई लेकिन कोई नतीजा हाथ नहीं लगा .

मुंबई . मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर ठाकरे सरकार में पेंच अब भी फंसा हुआ है. शिवसेना , कांग्रेस और एनसीपी के बीच अब भी विभागों के बंटवारे को लेकर सम्हमति नहीं बन पाई है .मंगलवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं कि बैठक हुई लेकिन कोई नतीजा हाथ नहीं लगा . सूत्रों की माने तो अब मंत्रिमंडल आगामी विधानमंडल के शीतकालीन सत्र के समाप्त होने के बाद ही होगा .
मंत्रिमंडल विस्तार और विभागों के बंटवारे को लेकर एक बार फिर शिवसेना -कांग्रेस -एनसीपी आमने सामने है . इन तीनो दलों के बीच सहमति नहीं बन पाई है . नतीजन आगामी 16 दिसंबर से नागपुर में शुरू हो रहे शीतकालीन सत्र एक सप्ताह तक चलेगा . विधानसभा सत्र के इस तैयारी को मुख्य वजह बताकर ही मंत्रिमंडल विस्तार को टाल दिया गया है .
मंगलवार को एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने एनसीपी के नेताओं की एक बैठक भी बुलाई थी . इस बैठक में शामिल होने के लिए अजित पवार ने अपना दौरा तक रद्द कर दिया . उधर उद्धव ठाकरे ने भी दो दिन पहले ही कहा था कि अगले दो से चार दिनों में सरकार मंत्रिमंडल का विस्तार करेगी . लेकिन अबतक कोई परिणाम हाथ नहीं लगा है . सूत्रों के अनुसार अब यह विस्तार 22 तारीख के बाद ही होने की संभावना है .
इस मामले में एनसीपी नेता नवाब मालिक ने भी कहा कि अभी अन्य विषयों पर चर्चा हो रही है . मंत्रिमंडल विस्तार को अभी समय है

[MORE_ADVERTISE1]