स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

maha politics: गुरु के पदचिन्हों पर एनकाउंटर स्पेसलिस्ट प्रदीप शर्मा

Ramdinesh Yadav

Publish: Sep 13, 2019 19:50 PM | Updated: Sep 13, 2019 19:50 PM

Mumbai

  • अपने गुरु सत्यपाल सिंह की राह पर चलते हुए राजनीती में रूचि ले रहे हैं।
  • स्वेच्छानिवृत ले चुके पुलिस अधिकारी व् एनकाउंटर स्पेसलिस्ट प्रदीप शर्मा का राजनीति में प्रवेश
  • शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने प्रदीप शर्मा को शिवबंधन बांधकर पार्टी में स्वागत किया।

मुम्बई । स्वेच्छानिवृत ले चुके पुलिस अधिकारी व् एनकाउंटर स्पेसलिस्ट प्रदीप शर्मा ने भी अपने गुरु के पदचिन्हों पर चलते हुए राजनीति में प्रवेश कर लिया है। शुक्रवार को अधिकृत रूप से उन्होंने शिवसेना में प्रवेश किया। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने प्रदीप शर्मा को शिवबंधन बांधकर पार्टी में स्वागत किया। महाराष्ट्र पुलिस में एनकाउंटर स्पेसलिस्ट के नाम पर मशहूर पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा ने भी शिवसेना में प्रवेश किया है।

शर्मा अब अपने गुरु सत्यपाल सिंह की राह पर चलते हुए राजनीती में रूचि ले रहे हैं। शर्मा के गुरु सत्यपाल सिंह जो मुंबई के पूर्व कमिश्नर रह चुके हैं। भाजपा के टिकट पर हरियाणा से चुनाव लड़कर लोकसभा पहुंचे थे। अबकी बार दूसरी बार वे लोकसभा में पहुंचे हैं और केंद्र सरकार में वरिष्ठ मंत्री भी हैं। सत्यपाल सिंह पहले से ही भाजपा के करीबी थे। राजनीती में अधिक रूचि रखते थे। और उन्हीके पदचिन्हों पर शर्मा भी चल रहे हैं। शर्मा के लिए सत्यपाल सिंह लाबिंग भी कर रहे हैं।

maha politics: गुरु के पदचिन्हों पर एनकाउंटर स्पेसलिस्ट प्रदीप शर्मा

शर्मा पहले अँधेरी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ना चाहते थे। पिछले कई महीने से वे विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से क्षेत्र में जन जन से जुड़ने का प्रयास कर रहे थे। शर्मा भाजपा से टिकट चाहते थे। लेकिन अब उन्होंने शिवसेना को चुना है। शिवसेना उन्हें पालघर जिले के नालासोपारा से टिकट दे सकती है। हालाँकि अभी इसकी अधिकृत घोषणा नहीं हुई है. लेकिन उद्धव ठाकरे ने उन्हें संकेत दे दिया हैं।
1983 में महाराष्ट्र पुलिस सेवा में शामिल हुए। जिसके बाद उन्हें मुंबई क्राइम ब्रांच टीम का हिस्सा बनाया गया। इस टीम को मुंबई से अंडरवर्ल्ड को खत्म करने की जिम्मेदारी दी गई थी। शर्मा ने दाऊद के भाई इकबाल कासकर को भी गिरफ्तार किया और जबरन वसूली रैकेट का भंडाफोड़ किया था।

maha politics: गुरु के पदचिन्हों पर एनकाउंटर स्पेसलिस्ट प्रदीप शर्मा

90 के दशक में इस टीम ने मुंबई में अंडरवर्ल्ड के 300 से ज्यादा अपराधियों को मार गिराया। इनमें से कई एनकाउंटर विवादित भी रहे हैं। वरिष्ठ निरीक्षक प्रदीप शर्मा को 2008 में लखन भैया फर्जी मुठभेड़ मामले में शामिल होने के आरोप में निलंबित कर दिया गया था। इस मामले में 13 अन्य पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी भी हुई थी। लंबे समय तक निलंबित रहने के बाद 2013 में उन्होंने फिर से पुलिस सेवा ज्वाइन कराया गया।

maha politics: गुरु के पदचिन्हों पर एनकाउंटर स्पेसलिस्ट प्रदीप शर्मा