स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

maha news: सलमान खान के घर में लगा बम, दो घंटे में होगा ब्लास्ट !

Ramdinesh Yadav

Publish: Dec 14, 2019 20:32 PM | Updated: Dec 14, 2019 22:26 PM

Mumbai

बांद्रा पुलिस( bandra police) ने गाजियाबाद (gaziabad)से नाबालिग को किया गिरफ्तार, ऐहतियातन गैलेक्सी (galaxy aprtment) अपार्टमेंट्स की भी सघन तलाशी ली, मुंबई पुलिस( mumbai police) को फर्जी सूचना (fake information) भेजकर दावा किया , सलमान खान( salman khan) के बांद्रा स्थित गैलेक्सी अपार्टमेंट में बम , दो घंटों में ब्लास्ट( bomb blast) हो जाएगा, रोक सकते हो तो रोक लो

मुंबई. Patrika .com/mumbai-news/maha-politics-maharashtra-farmar-opposing-rcep-at-asian-meeting-5313479/" target="_blank">बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान के घर ई-मेल से बम की फर्जी सूचना भेजने वाले नाबालिग युवक को मुंबई पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार किया। बांद्रा पुलिस ने जिस नाबालिग को पकड़ा है, वह उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद का रहने वाला है। उसने मुंबई पुलिस को फर्जी सूचना भेजकर दावा किया था कि सलमान खान के बांद्रा स्थित गैलेक्सी अपार्टमेंट में बम लगा है, जो अगले दो घंटों में ब्लास्ट हो जाएगा, रोक सकते हो तो रोक लो। युवक ने यह मेल गत 4 दिसंबर को भेजा था। मेल मिलने के बाद मुंबई पुलिस के एसीपी मनोज कुमार शर्मा, बम डिटेक्शन एंड डिस्पोज़ल स्क्वाड (बीडीडीएस) के एएसपी सहित कई अधिकारी सलमान के आवास पहुंचे। पुलिस वहां गईं तो सलमान घर पर मौजूद नहीं थे। घर में उनके पिता सलीम खान, मां सलमा खान और उनकी बहन अर्पिता को सुरक्षित बाहर निकालने के बाद बीडीडीएस टीम और अन्य अधिकारियों ने गैलेक्सी अपार्टमेंट की चार घंटे तक सघन तलाशी ली। इस दौरान कुछ भी संदेहास्पद चीज नहीं मिलने पर पुलिस ने राहत की सांस ली।

फर्जी मेल की छानबीन पर पकड़ा गया आरोपी

मुंबई पुलिस के वरिष्ठ निरीक्षक ने बताया कि ई-मेल के फर्जी होने की सूचना सामने आने के बाद पुलिस ने मेल भेजने वाले की गहन छानबीन शुरु की। तकनीक के जरिए आइपी और अन्य सॉर्स की जांच की गई। इसमें सामने आया कि यह मेल गाजियाबाद से आया है। मुंबई पुलिस की एक टीम गाजियाबाद गई और नाबालिग को पकड़ लिया। पूछताछ में सामने आया कि नाबालिग ने इसी साल जनवरी में गाजियाबाद के कबीर नगर पुलिस स्टेशन को भी धमकी भरा ई-मेल भेजा था। नाबालिग को न्यायालय के समक्ष पेश किया, जहां से उसे ताकीद करने के बाद अदालत ने जमानत दे दी।

पुलिस से बचने के लिए अदालत में जा छिपा

पुलिस के अनुसार नाबालिग कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (क्लेट) की तैयारी कर रहा है। पुलिस से बचने के लिए वह तीस हजारी कोर्ट में जा छिपा। पुलिस टीम उसके बड़े भाई से मिली, जो पेशे से वकील हैं। पुलिस ने उनको ई-मेल के बारे में बताया तो उन्होंने 16 वर्षीय छोटे भाई को घर आने के लिए मना लिया।

[MORE_ADVERTISE1]