स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मोहाली:कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के विरूद्ध में लगे पोस्टर,लोगों ने पूछा- 'कब छोड़ रहे हैं राजनीति'

Prateek Saini

Publish: Jun 21, 2019 15:33 PM | Updated: Jun 21, 2019 15:33 PM

Mohali

Poster Against Sidhu: लोकसभा चुनाव 2019 ( Lok Sabha Elections 2019 ) से पहले नवजोत सिंद्धू ने एक बयान ( Sidhu Statement ) में दावा किया था,'' यदि राहुल गांधी अमेठी ( Rahul Gandhi Amethi ) से चुनाव हार गए तो वह राजनीति छोड़ देंगे...

 

(चंडीगढ़,मोहाली): पंजाब में पिछले कई दिनों बगैर किसी विभाग के कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त नवजोत सिंह सिद्धू ( Navjot Singh sidhu ) एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। सिद्धू के खिलाफ राजधानी चंडीगढ़ से सटे पंजाब के जिला मोहाली ( mohali news ) में सार्वजनिक स्थानों पर पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर लगाने वालों ने सिद्धू से पूछा है कि वह इस्तीफा कब दे रहे हैं। सिद्धू के खिलाफ पोस्टर ( Poster Against Sidhu ) लगाए जाने की सूचना मिलते ही हरकत में आए नगर निगम ने पोस्टर उतरवाने शुरू कर दिए हैं। पुलिस प्रशासन यह पता लगाने में जुटा है कि आखिर इन पोस्टरों के पीछे किसका हाथ है।

 

राहुल हारे तो छोडूंगा राजनीति

Poster Against Sidhu
राहुल गांधी IMAGE CREDIT:

मोहाली के फेज तीन में पैट्रोल पंप के पास कुछ लोगों ने आज सुबह खाली पड़े बोर्डों पर पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ( Sidhu ) के विरूद्ध पोस्टर लगे देखे। अंग्रेजी तथा पंजाबी भाषा में लगे इन पोस्टरों पर नवजोत सिंह सिद्धू ( Sidhu ) की भाषण देते हुए एक फोटो लगाई गई है। जिसमें सिद्धू द्वारा हाल ही में लोकसभा चुनाव के दौरान अमेठी में चुनावी जनसभा के दौरान दिए गए बयान का हवाला देकर कहा गया है कि ‘मैं राजनीति छोड़ दूंगा अगर राहुल गांधी ने अमेठी ( Rahul Gandhi Amethi ) को गंवा दिया’ पोस्टर के अगले हिस्से में सिद्धू से सवाल किया गया है कि आप राजनीति कब छोड़ रहे हैं। समय आ गया है कि आप अपने किए हुए ऐलान को पूरा करें। हम आपके इस्तीफा का इंतजार कर रहे हैं।

 

 

राजनीतिक परिदृश्य से गायब चल रहे सिद्धू

Poster Against Sidhu
नवजोत सिंह सिद्धू IMAGE CREDIT:

नवजोत सिंह सिद्धू ( Sidhu ) पिछले कई दिनों से पंजाब की राजनीतिक परिदृश्य से गायब चल रहे हैं। सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह में लंबे समय से आपसी खींतचान चल रही है। जिसका पटाक्षेप लोकसभा चुनाव के दौरान हो गया था। इसके बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह (Capt Amarinder Singh) ने अपने मंत्रियों के विभागों में फेरबदल कर दिया। फेरबदल के बाद नवजोत सिंह सिद्धू से स्थानीय निकाय विभाग वापस लेकर उन्हें बिजली मंत्रालय का जिम्मा सौंप दिया गया। नाराज सिद्धू ने आजतक अपने नए मंत्रालय का कार्यभार नहीं संभाला है। यही नहीं सिद्धू राहुल गांधी व प्रियंका गांधी से भी मुलाकात कर चुके हैं लेकिन चंडीगढ़ सचिवालय में अपने कार्यालय नहीं आए हैं। ऐसे में इन पोस्टरों ने सिद्धू के विरूद्ध चल रही चर्चाओं को हवा दे दी है।