स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पंजाब में दुधारू पशुओं को हो रही यह गंभीर बीमारी,ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर पड़ रहा असर

Prateek Saini

Publish: Mar 06, 2019 15:03 PM | Updated: Mar 06, 2019 15:03 PM

Mohali

यह बीमारी दूर-दूर तक फैल गई है...

 

(चंडीगढ,मोहाली): पंजाब में दुधारू पशुओं में पिछले दिसम्बर से शुरू हुआ फुट एंड माउथ रोग अब तक अपने पैर दूर-दूर तक फैला चुका है। नतीजा यह है कि प्रदेश की ग्रामीण अर्थव्यवस्था को नुकसान हो रहा है। प्रदेश की ग्रामीण आबादी का 85 फीसदी हिस्सा पशुपालन करता है।

 

पिछले साल दिसम्बर में मोहाली जिले के गांवों में फुट एंड माउथ रोग का पता चला था। अब तक यह बीमारी दूर-दूर तक फैल गई है। हालांकि राज्य सरकार ने इस बीमारी का संज्ञान लिया है और कुछ नमूने जांच के लिए भुवनेश्वर स्थित इंटरनेशनल सेंटर फॉर फुट एंड माउथ डिजीज को भेजे गए थे। सेंटर ने अपनी रिपोर्ट में फुट एंड माउथ रोग होने की पुष्टि कर दी है। लेकिन प्रदेश का पशुपालन विभाग यह मान रहा है कि बीमारी के छुट-पुट मामले हैं और चिंता की कोई बात नहीं है।

 

लेकिन यह बीमारी का ही असर है कि राज्य सरकार ने मोहाली में आयोजित की जाने वाली 11वीं राष्ट्रीय पशुधन चैम्पियनशिप का आयोजन रोक दिया है। बीमारी के बहुत अधिक संक्रामक होने के कारण पशु व्यापार पर भी असर पड़ा है। पंजाब में हर साल 900 पशु मेले आयोजित किए जाते है। राज्य सरकार ने बीमारी वाले इलाकों में पशु मेलों का आयोजन न करने का फैसला किया है। राज्य सरकार टीकाकरण पर सालाना 12 करोड रूपए खर्च करती है और फिर भी बीमारी ने पैर पसार लिए है।