स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कोलकाता: दुनिया की सबसे सस्ती मेट्रो सेवा की शुरुआत, पीयूष गोयल ने दिखाई हरी झंडी

Shiwani Singh

Publish: Feb 14, 2020 10:38 AM | Updated: Feb 14, 2020 10:42 AM

Miscellenous India

  • 14 फरवरी से मेट्रो को आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा
  • कोलकाता में पहली मेट्रो रेल सेवा 1984 में हुई थी शुरू
  • मेट्रो अंडर वॉटर यानी नदी के पानी के नीचे बनी सुरंग में चलेगी।

नई दिल्ली। कोलकाता में गुरुवार से दुनिया की सबसे सस्ती मेट्रो सेवा की शुरुआत हो गई। इसी के साथ कोलकाता शहर के इतिहास में एक और अध्याय जुड़ गया है। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ( Piyush Goyal ) ने इस मेट्रो सेवा का गुरुवार को उद्घाटन किया। 14 फरवरी से इसे आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें-Nirbhaya Case: दोषी विनय शर्मा की याचिका पर आज आ सकता है सुप्रीम कोर्ट का फैसला

कोलकाता ने 20वीं सदी में देश की पहली मेट्रो सेवा शुरू करके इतिहास रचा दिया। अब 21वीं सदी में सिलसिला जारी रहेगा क्योंकि यह देश की सबसे सस्ती मेट्रो सेवा होगी। कोलकाता में पहली मेट्रो रेल सेवा 1984 में शुरू हुई थी। कोलकाता ईस्ट-वेस्ट मेट्रो इस शहर में दूसरी मेट्रो सेवा है। पहले फेज का निर्माण कार्य पूरा हो गया है जिसे कोलकाता की जनता के लिए चालू कर दिया गया।

 

[MORE_ADVERTISE1]maxresdefault.jpg[MORE_ADVERTISE2]

इसके अलावा, यह पहली ऐसी मेट्रो सेवा होगी जो अंडर वॉटर यानी नदी के पानी के नीचे बनी सुरंग में चलेगी। यह लाइन कुल 15 किलोमीटर होगी। पहले फेज में फिलहाल 6 किलोमीटर लंबी लाइन की शुरुआत होने जा रही है। दूसरे फेज का निर्माण पूरा होने के बाद यह मेट्रो सेवा सॉल्ट सेक्टर 5 से हावड़ा मैदान के बीच 15 किलोमीटर का सफर तय करेगी।

यह भी पढ़ें-पुलवामा की बरसी: शहीद होने वालों की याद में बने स्मारक का उद्घाटन आज

यह पूरे देश की, यहां तक दुनिया की सबसे सस्ती मेट्रो सेवा होगी, जिसमें एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक का किराया मात्र 5 रुपये होगा। इसमें कई तरह की यात्री सुविधाएं भी होंगी।

यह किसी भी मेट्रो सेवा की तुलना में सबसे सस्ती मेट्रो सेवा होगी। इसमें प्लेटफॉर्म स्क्रीन डोर और डिटेक्शन सिस्टम जैसी आधुनिक सुविधाएं होंगी। मेट्रो रेलवे का कहना है कि जल्दी ही कोलकाता की जनता के लिए यह सेवा बढ़कर 12 किलोमीटर तक हो जाएगी।

[MORE_ADVERTISE3]