स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भारत ने पाक-चीन को दी चेतावनी, ना करें ऐसी बयानबाजी, कश्मीर हमारा अभिन्न अंग

Shiwani Singh

Publish: Sep 10, 2019 17:03 PM | Updated: Sep 10, 2019 23:38 PM

Miscellenous India

  • भारत ने पाक-चीन के बयान को किया खारिज
  • कश्मीर को बताया भारत का अभिन्न अंग
  • कश्मीर को लेकर पाक और चीन ने जारी किया था संयुक्त बयान

नई दिल्ली। बीते रविवार को जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) पर चीन और पाकिस्तान की तरफ से संयुक्त बयान जारी किया गया था। अपने बयान में पाकिस्तान और चीन ने कश्मीर मुद्दे पर चर्चा कर बातचीत के जरिए क्षेत्र में विवादों के समाधान की जरूरत पर जोर दिया था। लेकिन सोमवार को भारत ने दोनों देशों के बयान को खारिज कर दिया है।

यह भी पढ़ें-नेपाल के भूकंप प्रभावित इलाकों की मदद को भारत ने बढ़ाया था हाथ, मकानों के पुनर्निमाण में की थी मदद

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, 'चीन के विदेश मंत्री के हालिया पाकिस्तान यात्रा के बाद चीन और पाक की ओर से जम्मू-कश्मीर को लेकर जो संयुक्त बयान जारी किया गया था, हम उसे अस्वीकार करते हैं। जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि चीन और पाकिस्तान दोनों के तथाकथित 'चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे' (CPEC) परियोजनाओं पर भारत सरकार ने चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि ये परियोजना भारत के क्षेत्र में चल रही है। लेकिन इस पर पाकिस्तान ने 1947 से अवैध रूप से कब्जा कर रखा है।'

क्या कहा था चीनी विदेश मंत्री ने

चीन के विदेश मंत्री वांग यी हाल ही में दो दिवसीय पाक दौरे पर आए थे। अपनी यात्रा के अंतिम दिन पाकिस्तान और चीन की तरफ से संयुक्त बयान जारी किया गया था। इस बयान में दोनों देशों ने जोर देते हुए कहा था कि किसी भी क्षेत्रीय या अंतरराष्ट्रीय स्थिति में उनका रणनीतिक गठजोड़ कायम रहेगा। दोनों देशों ने कहा था कि एक शांतिपूर्ण, स्थिर, सहयोगात्मक और समृद्ध दक्षिण एशिया सभी पक्षों को हित में है। कश्मीर मुद्दे पर बातचीत के जरिए क्षेत्र में विवादों के समाधान की जरूरत है।