स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मछलियों को चारा देने गयी दो बच्चियों की डूबने से मौत

Sarweshwari Mishra

Publish: Sep 06, 2019 16:52 PM | Updated: Sep 06, 2019 16:52 PM

Mirzapur

पांच फीट गहरे गड्ढे में पाल रखे थे मछली

मिर्ज़ापुर. लालगंज थाना क्षेत्र के लहंगपुर पुलिस चौकी अंतर्गत बहुती ग्राम सभा के अटारी मजरे के निवासी किशोर कुमार बिंद अपने मकान के पीछे लगभग एक सौ मीटर की दूरी पर मछली पालने के लिए गड्ढा बनाया हुआ है। उस गड्ढे में इस समय लगभग चार पांच फीट गहरा पानी है। किशोर कुमार की बड़ी पुत्री अनामिका (7) अपनी छोटी बहन अरांसी (4) के साथ घर से मछलियों को चारा खिलाने के लिए पहुंची थी।

चारा डालते समय अरांसी का पैर डगमगा गया उसको गिरते देख अनामिका दौड़कर अरांसी का हांथ पकड़ने लगी किन्तु वह भी संभल नहीं पाई और दोनों अबोध बहने गड्ढे के पानी में समा गई। मौके पर वहां और कोई नहीं था कि उन अबोध बहनों को बचा पाता। काफी देर बाद अनामिका का छोटा भाई विशाल (5) भी मछलियों को चारा खिलाने पहुंचा तो देखा कि छोटी बहन अरांसी (4) का शव उतराया हुआ था।

विशाल भागकर घर पहुंचा और अरांसी को पानी में होने की मां आशादेवी को जानकारी दिया। घर के परिजन ने मौके पर पहुंचकर देखा तो अरांसी का शव उतराया था लेकिन अनामिका नही दिखाई दी। गड्ढे के अंदर कूद कर खोज किया तो अनामिका का शव डूबने के बाद नीचे बैठ गया था। परिजनों ने दोनो बच्चियों के शवों को बाहर निकाला और बिना पुलिस को सूचित किए अंतिम संस्कार भी कर दिए। दंपति किशोर कुमार बिन्द व आशादेवी को तीन संतानों में दो पुत्री व एक पुत्र थे। जिसमें सबसे बड़ी अनामिका और अरान्सी सबसे छोटी थी। पुत्र विशाल मंझला था। इस घटना के बाद घर के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो गया है। लहंगपुर पुलिस चौकी प्रभारी विनोद कुमार यादव ने बताया की पुलिस को जानकारी नहीं है।
By-Suresh Singh